scorecardresearch
 

IS के खिलाफ लड़ता रहेगा अमेरिका: माइक पोम्पियो

आतंकी संगठन आईएसआईएस के खिलाफ अमेरिका की कार्रवाई जारी रहेगी. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने गुरुवार को कहा कि अमेरिका आईएसआईएस से लड़ता रहेगा.

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (Courtesy- ANI) अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो (Courtesy- ANI)

  • अमेरिकी राष्ट्रपति ने सीरिया से सुरक्षा बलों की वापसी का किया था ऐलान
  • अमेरिका ने 26 अक्टूबर को आईएसआईएस सरगना को कर दिया था ढेर

खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस के खिलाफ अमेरिका की जंग जारी रहेगी. गुरुवार को अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि अमेरिका आईएसआईएस से लड़ता रहेगा. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा सीरिया से अमेरिकी सेना की वापसी की घोषणा करने के बाद फ्रांस ने एक बैठक शुरू की है. इस बैठक में 31 देशों के मंत्री शामिल हैं.

वॉशिंगटन में आयोजित बैठक में सहयोगी देशों को आश्वासन देते हुए अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि अमेरिका सुरक्षा के लिए गठबंधन और दुनिया का नेतृत्व करता रहेगा. उन्होंने कहा कि अमेरिकी सुरक्षा बलों को इसलिए तैनात किया गया है, ताकि आईएसआईएस दोबारा से सिर न उठा पाए.

इस दौरान पोम्पियो ने कहा कि 26 अक्टूबर को अमेरिकी सुरक्षा बलों ने आईएसआईएस के सरगना अबु बक्र अल-बगदादी और अन्य आतंकी कमांडरों को ढेर कर दिया था. इसके अलावा माइक पोम्पियो ने वॉशिंगटन में नार्वे के अपने समकक्ष एने एरिक्सन सोराइड से मुलाकात की और आगामी उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) नेताओं की बैठक के मसले पर चर्चा की.

विदेश विभाग ने कहा कि दोनों नेताओं ने मंगलवार को आगामी नाटो नेताओं की बैठक, रक्षा सहयोग, आर्कटिक, वैश्विक सुरक्षा मुद्दों के साथ ही अफगानिस्तान और सीरिया के मसले पर चर्चा की. दिसंबर में लंदन में होने वाली नाटो नेताओं की बैठक में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भी शामिल होने की उम्मीद है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें