scorecardresearch
 

UAE एयर ट्रैवल: अमीरात एयरलाइंस 23 जून से शुरू करेगी भारत की फ्लाइट्स

अमीरात एयरलाइंस ने ये फैसला दुबई में सुप्रीम कमेटी ऑफ क्राइसिस एंड डिसास्टर की ओर से संशोधित नियम जारी करने के बाद लिया है. इन संशोधित नियमों के तहत पूरी तरह वैक्सीनेटेड लोगों को यूएई में अपने घरों को लौटने की इजाजत दी गई.

संशोधित नियमों के मुताबिक फैसला (फाइल फोटोः पीटीआई) संशोधित नियमों के मुताबिक फैसला (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यात्रा करने से पहले जान लें क्या हैं जरूरी शर्तें
  • संशोधित नियम जारी होने के बाद फैसला

भारत से यात्री 23 जून से संयुक्त अरब अमीरात के लिए फ्लाइट्स ले सकेंगे. अमीरात एयरलांइस के मुताबिक नए ट्रेवल प्रोटोकॉल्स के मुताबिक यात्रियों को लाया जाएगा. खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक दुबई स्थित अमीरात एयरलाइंस ने घोषणा की है कि भारत, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया से यात्रियों के लिए फ्लाइट्स शुरू की जा रही हैं.

अमीरात एयरलाइंस ने ये फैसला दुबई में सुप्रीम कमेटी ऑफ क्राइसिस एंड डिसास्टर की ओर से संशोधित नियम जारी करने के बाद लिया है. इन संशोधित नियमों के तहत पूरी तरह वैक्सीनेटेड लोगों को यूएई में अपने घरों को लौटने की इजाजत दी गई. अमीरात एयरलाइंस के मुताबिक 23 जून से भारत, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया से यात्रियों को लाने के लिए फ्लाइट्स का संचालन शुरू किया जाएगा.

एयरलाइन की ओर से आधिकारिक बयान में कहा गया, “अमीरात की ओर से दुबई की सुप्रीम कमेटी ऑफ क्राइसिस एंड डिसास्टर मैनेजमेंट की ओर से घोषित ताजा प्रोटोकॉल्स और उपायों का स्वागत किया जाता है जिससे कि भारत, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया से यात्रियों की सुरक्षित वापसी कराई जा सके. हम इन देशों से यात्रा के लिए सुविधाएं देने और विभिन्न यात्रियों को सपोर्ट देने के लिए आगे देख रहे हैं.”

यूएई ने भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर में नए केसों की बड़ी संख्या को देखते हुए 24 अप्रैल से फ्लाइट्स को स्थगित कर दिया था. दक्षिण अफ्रीका से आने वाली फ्लाइट्स के लिए ये फैसला इस साल जनवरी के मध्य में लिया गया था. एयरलाइन के इस फैसले से यूएई के रहने वाले उन हजारों लोगों को राहत मिलेगी जो भारत में पिछले कई हफ्तों से अटके हुए हैं और यूएई लौटने का इंतजार कर रहे हैं.

भारत से आने वाले यात्रियों के लिए क्या हैं नियम?

  • एंट्री सिर्फ उन्हीं रेजीडेंट्स को मिलेगी जिन्होंने यूएई की ओर से अप्रूव वैक्सीन की दोनों डोज ले ली हैं.
  • यात्रियों के लिए जरूरी है कि वे भारत से डिपार्चर से 48 घंटे पहले निगेटिव कोविड-19 PCR टेस्ट रिपोर्ट पेश करें, सिर्फ यूएई के नागरिकों को इससे छूट होगी.  
  • सिर्फ QR कोडेड PCR टेस्ट रिजल्ट सर्टिफिकेट ही मान्य होंगे.
  • सभी यात्री फ्लाइट डिपार्चर से 4 घंटे पहले रैपिड टेस्ट कराएं.
  • दुबई एयरपोर्ट पहुंचने पर भी सभी यात्रियों का कोरोना टेस्ट अनिवार्य. 
  • यात्रियों को संस्थागत क्वारंटीन में तब तक रहना पड़ेगा जब तक उनके कोरोना टेस्ट का नतीजा नहीं आ जाता, जिसमें 24 घंटे लगना संभावित हैं. यूएई के नागरिकों और राजनयिकों को इससे छूट रहेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें