scorecardresearch
 

पाकिस्तान में हिंदू लड़की का मंडप से अपहरण, जबरन इस्लाम कबूल कराकर शादी कराई

पाकिस्तान से हिंदू युवती के धर्म परिवर्तन का एक और मामला सामने आया है. युवती को उसके शादी के मंडप से अपहरण कर उसे इस्लाम कबूल करवा एक मुस्लिम व्यक्ति से शादी कर दी गई. हालांकि, पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, युवती पहले ही धर्म परिवर्तन कर एक मुस्लिम युवक से प्रेम विवाह कर चुकी थी, लेकिन ये बात उसने अपने घरवालों को नहीं बताई.

X
पाकिस्तान में हिंदू युवती का अपहरण पाकिस्तान में हिंदू युवती का अपहरण

  • पाकिस्तान में हिंदू युवती के धर्म परिवर्तन का एक और मामला
  • विवाह समारोह से युवती का किया गया अपहरण

साल 2020 पाकिस्तान में हिंदू समुदाय के लिए कठिनाइयों का साल बन गया है. वहां जबरन अपहरण, धर्म परिवर्तन और मुस्लिम पुरुषों से शादी आए दिनों की बात हो गई है. कराची से करीब 215 किलोमीटर दूर मटियारी जिले में स्थित हाला शहर में हिंदू युवती के धर्मपरिवर्तन और जबरन शादी का एक और मामला सामने आया है. युवती को स्थानीय पुलिस अधिकारियों की देखरेख में हमलावरों ने विवाह समारोह से किडनैप किया और फिर जबरन इस्लाम कबूल करवाकर एक मुस्लिम व्यक्ति से उसकी शादी कर दी गई.  

हिंदू युवक से शादी होनी थी

24 वर्षीय भारती बाई की सिंध प्रांत के हाला शहर में एक हिंदू युवक से शादी होनी थी. हालांकि, पहले ही कुछ अज्ञात हमलवारों ने समारोह स्थल पर पहुंच युवती को किडनैप कर लिया. युवती भारती बाई के पिता किशोर दास ने कहा कि उनकी बेटी का विवाह समारोह चल रहा था, तभी शाहरुख गुल के नाम का अपहरणकर्ता, पुलिस अधिकारियों और कई अन्य लोगों के साथ आया और दिन के उजाले में बेटी को ले गया. बाद में भारती के इस्लाम धर्म में परिवर्तन और शाहरुख गुल से शादी के दस्तावेज के साथ एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई.

युवती को आश्रय गृह भेजा गया

वहीं, समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है कि पाकिस्तान के सिंध प्रांत के शहर हाला में रविवार को पुलिस ने एक हिंदू लड़की को उसकी शादी के दिन बरामद करने का दावा करते हुए अदालत में पेश किया, जहां से उसे आश्रय गृह भेज दिया गया.

रिपोर्ट में कहा गया कि कराची में धर्म परिवर्तन कर एक मुस्लिम युवक से प्रेम विवाह करने वाली बुशरा उर्फ भारती बाई को पुलिस ने हाला में बरामद कर अदालत में पेश किया. रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंक कर्मचारी भारती बाई ने दो महीने पहले मुसलमान होकर शाहरुख मेमन नाम के एक इंजीनियर से कराची के जामिया बिनोरिया में निकाह कर लिया और अपना नाम बुशरा रख लिया. रिपोर्ट में दावा किया गया कि नौकरी के दौरान दोनों में प्रेम हो गया और दोनों ने शादी करने का फैसला किया.

ये भी पढ़ें- जानलेवा कोरोना वायरस की भारत में दस्तक! जयपुर के अस्पताल में संदिग्ध मरीज भर्ती

घरवालों से शादी की बात छिपाई

रिपोर्ट के मुताबिक, बाद में बुशरा उर्फ भारती बाई अपने घर लौटी और उसने शादी की बात छिपाई. उसके माता-पिता ने एक हिंदू लड़के से उसकी शादी तय कर दी. आज (रविवार को) उसकी इस लड़के से शादी होनी थी. इसी बीच पुलिस अदालत के आदेश पर उसके घर पहुंची और उसे अपने साथ ले जाकर अदालत में पेश किया. रिपोर्ट में कहा गया है कि बुशरा ने अदालत से कहा कि उसने शाहरुख से स्वेच्छा से शादी की है, जबकि शाहरुख ने निकाहनामा पेश किया. मामले में हिंदू और मुसलमान समुदाय के प्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के कारण अदालत ने लड़की को सोमवार तक के लिए आश्रय गृह भेज दिया.

स्थानीय प्रशासन और सरकार मदद करती है

वहीं, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने पाकिस्तान मीडिया की कुछ क्लिप जारी की हैं और अपने एक बयान का वीडियो भी जारी किया है, जिसमें उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में कराची के हाला शहर से एक हिंदू लड़की भारती को शादी के मंडप से शाहरुख नाम का एक पाकिस्तानी युवक अपने दोस्तों के साथ मिलकर किडनैप करके ले गया और उसके बाद जबरन उसका धर्म बदलकर उससे निकाह कर लिया.

ये भी पढ़ें- इराक: बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास गिरे 5 रॉकेट

मनजिंदर सिंह सिरसा ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान का स्थानीय प्रशासन और सरकार भी इस तरह के मामलों में आरोपी युवकों की मदद करती है और भारती के केस में भी उसके इस्लाम कबूलने और निकाह करने के दस्तावेज एक महीने पुराने बनाकर दिखा दिए गए. मनजिंदर सिंह सिरसा ने आरोप लगाया कि पिछले 75 दिनों में 53 हिंदू और सिख अल्पसंख्यक लड़कियों के नाम सामने आ चुके हैं, जिनके साथ जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह पाकिस्तान में किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें