scorecardresearch
 

Coronavirus: कोरोना वायरस से लड़ नहीं पा रहा चीन, 1600 पहुंचा मौत का आंकड़ा

चीन में फैले कोरोना वायरस निमोनिया के प्रकोप से बचने के लिए 13 फरवरी तक चीन के विभिन्न जगहों के संबंधित विभागों ने कुल 80.55 अरब चीनी युआन का योगदान दिया है. जिससे महामारी की रोकथाम की जा सके.

कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़ी कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़ी

  • चीन में कोरोना वायरस के 2,420 नए मामले
  • सबसे अधिक प्रभावित हुबेई, कल 140 लोगों की हुई थी मौत

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1600 हो गई है. जबकि चीन में इस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 67,535 हो गई है. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि इस संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित हुबेई हुआ है, जहां शुक्रवार को 2,420 नए मामले सामने आए हैं. इनमें से 139 लोगों की मौत हो गई.

आयोग ने बताया कि इसके अलावा हेनान में दो और बीजिंग एवं चोंगक्विंग में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है.

कोरोना  से निपटने के लिए खर्च किए 80.55 अरब युआन

चीन में फैले कोरोना वायरस निमोनिया के प्रकोप के बाद चीन के विभिन्न स्तरीय वित्तीय विभागों ने सिलसिलेवार धन मुहैया कराया है. 13 फरवरी तक चीन के विभिन्न जगहों के संबंधित विभागों ने कुल 80.55 अरब चीनी युआन का योगदान दिया है. जिससे महामारी की रोकथाम की जा सके.

चीनी वित्त मंत्रालय के महामारी कार्य नेतृत्व दल के प्रभारी फू चिनलिन ने चीनी राज्य परिषद की एक न्यूज ब्रीफिंग में कहा कि हाल में चीन की केंद्र सरकार ने 17.29 अरब चीनी युआन हुबेई प्रांत और देश के विभिन्न स्थलों की महामारी रोकथाम, हुबेई प्रांत की केंद्रीय बुनियादी संरचनाओं के निवेश में इस्तेमाल किया है.

और पढ़ें- जापान: कोरोना वायरस की चपेट में आए क्रूज पर सवार 3 भारतीय, वापसी की लगाई गुहार

महामारी से प्रभावित होकर कुछ व्यवसाय, खास तौर पर मध्यम व छोटे उद्यमों के सामने अपेक्षाकृत भारी दबाव आया है. कुछ उद्यमों में उत्पादन स्थगित हुआ है. इसके मद्देनजर चीन के संबंधित विभागों ने वित्तीय समर्थन नीतियां जारी कीं और छोटे व माइक्रो उद्यमों के लिए कर को कम किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें