scorecardresearch
 

डेविस कप: नडाल की तबीयत बिगड़ी, नहीं खेलेंगे पहला मैच

डेविस कप के वर्ल्ड प्ले ऑफ ग्रुप में भारत और स्पेन का मुकाबला शुरू हो रहा है. पहला मैच भारतीय खिलाड़ी रामकुमार रामनाथन और 14 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन राफेल नडाल के बीच होना था लेकिन मैच से ठीक पहले नडाल की तबीयत बिगड़ गई और अब उनकी जगह फेलिसियानो लोपेज खेलेंगे.

भारतीय खिलाड़ी रामकुमार रामनाथन भारतीय खिलाड़ी रामकुमार रामनाथन

डेविस कप के वर्ल्ड प्ले ऑफ ग्रुप में भारत और स्पेन का मुकाबला शुरू हो रहा है. पहला मैच भारतीय खिलाड़ी रामकुमार रामनाथन और 14 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन राफेल नडाल के बीच होना था लेकिन मैच से ठीक पहले नडाल की तबीयत बिगड़ गई है. अब नडाल की जगह वर्ल्ड नंबर 26 फेलिसियानो लोपेज राजकुमार के खिलाफ पहला मुकाबला खेलेंगे. राजकुमार की वर्ल्ड रैंकिंग 137 है. अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ द्वारा घोषित ड्रॉ के मुताबिक इसके बाद दूसरा सिंग्लस साकेत मायनेनी और दुनिया के 13वें नंबर के खिलाड़ी डेविड फेरर के बीच होगा.

शनिवार को दूसरे दिन अनुभवी लिएंडर पेस युगल मैच के लिए साकेत मायनेनी के साथ जोड़ी बनाएंगे और फ्रेंच ओपन चैम्पियन फेलिसियानो लोपेज और मार्क लोपेज से भिड़ेंगे. जबकि उलट एकल में रविवार को साकेत का सामना नडाल से होगा जबकि रामनाथन की भिड़ंत फेरर से होगी.

मैच से पहले नडाल ने कहा, 'यह हर किसी के लिए मुश्किल होगा. दोनों टीमें वर्ल्ड ग्रुप में पहुंचना चाहती हैं तो यह अहम मुकाबला होगा. हमारी टीम में भले ही बड़े नाम शामिल हों और हमारी रैंकिंग ऊपर हो लेकिन भारतीय टीम हालात को अच्छी तरह जानती है इसलिए घरेलू हालात का फायदा उनके साथ होगा. यह मुश्किल होगा.' उन्होंने कहा, 'हम अलग-अलग परिस्थितियों में खेलने के आदी हैं लेकिन यहां इस समय उमस ज्यादा है. इसलिए हमें फिट होने की जरूरत है और इन हालात में बेस्ट ऑफ फाइव सेट हमारे लिए कठिन होगा.'

नडाल चोट से वापसी कर रहे हैं. उनसे यह पूछा गया कि टूर्नामेंट कितना अहम है तो उन्होंने कहा, 'चोटें हमेशा मुश्किल होती हैं. वापसी करना मुश्किल है लेकिन मुझे लगता है कि मैंने अच्छा किया. मेरे लिए ओलंपिक भी अच्छा रहा और मैंने अमेरिकी ओपन में भी अच्छा प्रदर्शन किया. हम इस मुकाबले के लिए रोमांचित हैं, हम वर्ल्ड ग्रुप में पहुंचने के लिए प्रेरित हैं और हमारा यही लक्ष्य है.’

भारत ने एशिया-ओसनिया ग्रुप एक के दूसरे राउंड के मुकाबले में कोरिया को 4-1 से शिकस्त दी थी जबकि स्पेन ने यूरोप-अफ्रीकी क्षेत्रीय मुकाबले में रोमानिया को इसी अंतर से पराजित किया था. भारत और स्पेन अभी तक डेविस कप में तीन बार एक दूसरे के आमने सामने हुए हैं जिसमें यूरोपीय देश का रिकॉर्ड 2-1 है. पिछली बार भारत की भिड़ंत स्पेन से 1965 में हुई थी, जब उन्हें 2-3 से शिकस्त मिली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें