scorecardresearch
 

BCCI के ऐतराज के बाद कोहली की सफाई- मजाक था, हल्के में लें

कोहली ने एक प्रशंसक को देश छोड़ने के लिए कह डाला जिसने कहा था कि भारतीय कप्तान अनावश्यक तवज्जो पाने वाले बल्लेबाज हैं. इसके बाद ट्विटर पर कोहली की जमकर आलोचना हुई.

विराट कोहली (तस्वीर- फेसबुक) विराट कोहली (तस्वीर- फेसबुक)

एक प्रशंसक को विवादास्पद जवाब देने के लिए आलोचना झेल रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली ने गुरुवार को कहा कि उन्हें ‘अपनी अपनी पसंद की आजादी’ से कोई गुरेज नहीं है लेकिन प्रशंसकों से इसे हलके में लेने की अपील की.

कोहली बुधवार को विवाद के घेरे में आ गए थे जब उन्होंने एक प्रशंसक को देश छोड़ने के लिए कह डाला जिसने कहा था कि भारतीय कप्तान अनावश्यक तवज्जो पाने वाले बल्लेबाज हैं. इसके बाद ट्विटर पर कोहली की जमकर आलोचना हुई.

कोहली ने आज ट्वीट किया, 'मैंने इस बारे में कहा था कि टिप्पणी में ये भारतीय शब्द का कैसे इस्तेमाल किया गया था. बस इतना ही. मुझे अपनी अपनी पसंद की आजादी से कोई परेशानी नहीं है. इसे हलके में लें और त्यौहार का मजा लें. सभी के लिये प्यार और शांति.'

कोहली ने अपने मोबाइल ऐप पर एक क्रिकेट प्रेमी की टिप्पणी पढ़ी थी जिसने लिखा था, 'ओवर रेटेड बल्लेबाज. मुझे उसकी बल्लेबाजी में कुछ खास नहीं दिखता. मुझे इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बल्लेबाज इन भारतीयों से ज्यादा पसंद हैं.'

इस पर कोहली ने कहा था, 'ठीक है तो मुझे लगता है कि आपको भारत में नहीं रहना चाहिए. आप कहीं और जाकर रहिए. आप रहते हमारे देश में हैं और प्यार दूसरे देशों से है. आप भले ही मुझे पसंद ना करें लेकिन मुझे नहीं लगता कि आपको हमारे देश में रहना चाहिए.' मशहूर कमेंटेटर हर्षा भोगले ने इस पर लिखा कि कोहली एक सुविधाजनक आवरण में रह रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट किया, 'विराट कोहली का बयान बताता है कि वह उसी सुविधाजनक खोल में रह रहे हैं जिसमें अधिकांश मशहूर लोग चले जाते हैं या जाने पर मजबूर हो जाते हैं. उसमें वही आवाज जाती है जो वे सुनना चाहते हैं. यह सुविधाजनक आवरण है और यही वजह है कि अधिकांश मशहूर लोग जाने से बचना चाहते हैं.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें