scorecardresearch
 

आईपीएल का देश के जीडीपी में 11.5 अरब रुपये का योगदान

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को कहा कि इस साल हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 18.2 करोड़ डॉलर (11.5 अरब रुपये) का योगदान दिया है.

आईपीएल-8 की विजेता टीम है मुंबई इंडियंस आईपीएल-8 की विजेता टीम है मुंबई इंडियंस

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को कहा कि इस साल हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 18.2 करोड़ डॉलर (11.5 अरब रुपये) का योगदान दिया है. बीसीसीआई ने भारत की अर्थव्यवस्था में आईपीएल के जरिए उत्पन्न आर्थिक प्रभाव के सर्वे का पता लगाने के लिए केपीएमजी खेल सलाहकार समूह को नियुक्त किया था.

आईपीएल 2015 में आठ टीमों ने 44 दिनों में देशभर के 12 शहरों में 13 स्थानों पर कुल 60 मैच खेले. बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा कि इस टूर्नामेंट में अधिक से अधिक 193 क्रिकेट खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया और कुल 17.1 लाख दर्शकों ने ये मैच देखे.

बीसीसीआई ने कहा, ‘भारत में आईपीएल मैचों से जुड़ा कुल आर्थिक उत्पादन का अनुमान 26.5 अरब रुपये लगाया गया है. आईपीएल मैचों की मेजबानी से राज्य की अर्थव्यवस्था में मूल्य और राजस्व को बढ़ावा मिलता है.’

सर्वे के अनुसार, आईपीएल के मैच कई तरह से भारत की अर्थव्यवस्था को सीधे तौर पर प्रभावित करते हैं. टूर्नामेंट के कारण पर्यटन विकास से फायदा और विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के अवसर मिलते हैं.

आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कहा, ‘यह बात काफी प्रेरणादायक है कि आईपीएल के कारण भारत की अर्थव्यवस्था पर इतना सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. हम आईपीएल के आगामी सत्रों के माध्यम से इन मानकों को फिर से परिभाषित करने और भविष्य के प्रयासों के माध्यम से देश की अर्थव्यवस्था को सशक्त बनाने के लिए तत्पर हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें