scorecardresearch
 

इंदौर में 'विराट' सेना ने मनाया जीत का 'दशहरा', टेस्ट सीरीज में कीवियों का किया 3-0 से क्लीन स्वीप

इंदौर के होलकर स्टेडियम में टीम इंडिया ने तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को 321 रनों से हराकर सीरीज में क्लीन स्वीप किया. न्यूजीलैंड को जीत के लिए 475 रन बनाने थे. लेकिन दूसरी पारी में कीवी टीम महज 153 रनों पर सिमट गई.

इंदौर टेस्ट मैच का चौथा दिन इंदौर टेस्ट मैच का चौथा दिन

इंदौर के होलकर स्टेडियम में टीम इंडिया ने तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को 321 रनों से हराकर सीरीज में क्लीन स्वीप किया. न्यूजीलैंड को जीत के लिए 475 रन बनाने थे. लेकिन दूसरी पारी में कीवी टीम महज 153 रनों पर सिमट गई. इस टेस्ट मैच में आर अश्विन ने सबसे ज्यादा 13 विकेट झटके. इस टेस्ट सीरीज में अश्विन में 27 विकेट झटके हैं.  इसके लिए उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' और 'मैन ऑफ द सीरीज' चुना गया.

अश्विन की फिरकी में फंसा न्यूजीलैंड
पहली पारी के बाद भारतीय स्पिन गेंदबाज आर अश्विन दूसरी पारी में भी कीवी बल्लेबाजों पर हावी रहे. उन्होंने दूसरी पारी में सात विकेट झटके. इसके अलावा रवींद्र जडेजा को दो और उमेश यादव को एक विकेट मिला. अश्विन ने पहली पारी में छह विकेट लिए थे. इस टेस्ट मैच की दोनों पारियों में उन्होंने 13 विकेट झटके.

विराट की कप्तानी में लगातार चौथी सीरीज जीती
विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार चौथी टेस्ट सीरीज जीती है. इससे पहले एमएस धोनी के टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद से विराट की कप्तानी में टीम इंडिया श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीत चुकी है.

न्यूजीलैंड के सामने था 475 रनों का लक्ष्य

तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 216 रनों पर घोषित की. चेतेश्वर पुजारा (101) और अजिंक्य रहाणे (23) रन बनाकर नॉटआउट रहे. इसके साथ ही भारत ने न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिए (475) रनों की चुनौती रखी. भारत ने पहली पारी 557 के स्कोर पर घोषित की थी और न्यूजीलैंड की पहली पारी 299 रन पर सिमटी. इसके आधार पर भारत को 258 रनों की बढ़त हासिल हुई थी.

पुजारा ने लगाया आठवां शतक
न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिए विशाल लक्ष्य देने में चेतेश्वर पुजारा का बड़ा रोल रहा. पुजारा ने अपने टेस्ट करियर का आठवां शतक जड़ा. वो 101 रन बनाकर नॉटआउट लौटे. उन्होंने पहले गंभीर के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 76 रन की साझेदारी की. फिर रहाणे के साथ मिलकर बेहतरीन 58 रन की नाबाद साझेदारी की.

गंभीर ने 22वीं फिफ्टी लगाई
खेल के तीसरे दिन गौतम गंभीर कंधे की चोट के चलते मैदान से बाहर चले गए थे. लेकिन वो चौथे दिन जब बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरे तो उन्होंने बेहतरीन शॉट्स लगाए. गंभीर ने तेजी से रन बटोरे और कीवी गेंदबाजों पर दबाव बनाए रखा. उन्होंने अपने टेस्ट करियर का 22वां अर्धशतक पूरा किया और टीम इंडिया के बड़े स्कोर में अहम रोल निभाया.

चौथे दिन भारत के तीन विकेट गिरे
इंदौर टेस्ट मैच के चौथे दिन भारत का सबसे पहला विकेट सलामी बल्लेबाज मुरली विजय के रूप में गिरा. विजय (19) के स्कोर पर रन आउट हुए. दूसरा विकेट गौतम गंभीर का गिरा उन्हें जीतन पटेल की गेंद पर मार्टिन गप्टिल ने लपका. टीम इंडिया का तीसरा विकेट पहली पारी में दोहरा शतक जड़ने वाले कप्तान विराट कोहली (17) का गिरा. उन्हें भी स्पिन गेंदबाज जीतन पटेल ने LBW आउट किया.

खेल का तीसरा दिन भारतीय स्पिनर आर अश्विन ने नाम रहा
इंदौर टेस्ट मैच का तीसरा दिन आर अश्विन के नाम रहा. अश्विन की फिरकी का कमाल दुनिया ने एक बार फिर देखा. उन्होंने 27.2 ओवर में 81 रन देकर 6 विकेट झटके, वहीं रवींद्र जडेजा को दो विकेट मिले. अश्विन ने अपने टेस्ट करियर में 20वीं बार एक पारी में 5 या अधिक विकेट हासिल किए. उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ एक पारी में 5 बार 5 या अधिक विकेट लिए हैं. टीम इंडिया के पहली पारी के 557 रनों के जवाब में न्यूजीलैंड की पहली पारी टी-ब्रेक के बाद 299 रन पर सिमट गई. इस तरह टीम इंडिया को पहली पारी के आधार पर 258 रन की बढ़त हासिल हुई. भारत के पास फॉलोऑन खिलाने का मौका था, लेकिन मैच में अभी दो दिन बचे होने और गेंदबाजों की थकान के कारण कप्तान कोहली ने फिर से बल्लेबाजी का फैसला किया. कीवी टीम की तरफ से मार्टिन गप्टिल ने 72, टॉम लाथम ने 53 और जेम्स नीशाम ने 71 रन की पारी खेली.

गौतम गंभीर रिटायर्ड हर्ट हुए
टीम इंडिया के सामली बल्लेबाज गौतम गंभीर को रिटायर्ड हर्ट हुए. फील्डिंग करते समय उनके दाएं कंधे में चोट गई थी. जिसके चलते उन्हें मैदान छोड़कर जाना पड़ा. दूसरी पारी में गंभीर ने सात गेंदों का सामना किया और छह रन बनाए. ऐसा माना जा रहा है कि उनके कंधे की चोट ज्यादा गंभीर नहीं है वो फिर से बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतर सकते हैं. पहली पारी में उन्होंने 29 रन की पारी खेली थी.

आर अश्विन ने झटके छह विकेट
खेल का तीसरा दिन भारतीय गेंदबाज आर अश्विन के नाम रहा उन्होंने छह विकेट झटके. अश्विन ने अपने टेस्ट करियर में 11 बार एक पारी में 5 या उससे ज्यादा विकेट ले लिए हैं. अश्विन ने पहले लाथम (53) को अपनी ही गेंद पर कैच कर आउट किया. लाथम और गप्टिल ने बेहतरीन 118 रन की साझेदारी की. अश्विन का दूसरा शिकार बने कप्तान केन विलियम्सन (8) उन्हें क्लीन बोल्ड किया. इसके कुछ देर बाद रॉस टेलर (0) और ल्यूक रोंचि को (0) पर पवेलियन भेजा. मार्टिन गप्टिल को (72) के स्कोर पर अश्विन ने रन आउट कर कीवी टीम की कमर ही तोड़कर रख दी. मार्टिन गप्टिल को (72) के स्कोर पर अश्विन ने रन आउट कर कीवी टीम की कमर ही तोड़कर रख दी. इसके अलावा जिमी नीशाम और ट्रेट बोल्ट को पवेलियन भेजा. इस तरह अश्विन ने भारत की तरफ से छह विकेट झटके.अश्विन ने भारत की तरफ से छह विकेट झटके.इसके अलावा जडेजा ने दो विकेट लिए. उन्होंने वाटलिंग और सैंटनर को आउट किया.

तीन साल बाद विदेशी ओपनर ने शतकीय साझेदारी की
खेल के तीसरे दिन न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल और टॉम लाथम के बीच 118 रन की साझेदारी हुई. किसी विदेशी ओपनर बल्लेबाजों द्वारा भारतीय जमीन पर तीन साल बाद शतकीय साझेदारी हुई. साल 2013 में मोहली में ऑस्ट्रेलिया के एड कोवान और डेविड वॉर्नर के बीच 139 रनों की साझेदारी हुई थी. इस मैच में टीम इंडिया ने टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना तीसरा सबसे बड़ा स्कोर 557 रन भी बनाया. इसके अलावा भारत का कीवी टीम के खिलाफ बेस्ट स्कोर 7 विकेट पर 583 रन है, जो उसने अहमदाबाद में 1999-00 में बनाया था, जबकि दूसरा बड़ा स्कोर 566/8 नागुपर में 210-11 में खड़ा किया था.

इंदौर टेस्ट मैच का दूसरा दिन
कप्तान विराट कोहली और अजिंक्या रहाणे की शानदार बल्लेबाजी की बौदलत टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के सामने 557 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर पारी घोषित की. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड ने बिना कोई नुकसान के 28 रन बना लिए थे. मार्टिन गुप्टिल (17) और टॉम लाथम (6) रन बनाए. इसके अलावा न्यूजीलैंड की तरफ से तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट और स्पिन गेंदबाज जीतन पटेल ने दो-दो विकेट झटके. इसके अलावा स्पिनर मिशेल सैंटनर को एक विकेट मिला.

जडेजा पर लगी पेनल्टी
रवींद्र जडेजा की गलती के कराण कीवी टीम को पांच रन ज्यादा दिए गए. जडेजा बल्लेबाजी करते समय पिच के डेंजर जोन में रन लेने किए दौड़ने लगे. उन्होंने ऐसा दो बार किया. जिस पर अंपायर ने पांच रन पेनल्टी लगा दी. ऐसे में न्यूजीलैंड ने अपनी पारी जीरो के बजाए पांच रन से शुरू की.

भारत ने 557 रन पर पारी घोषित की
कप्तान विराट कोहली (211) और अजिंक्य रहाणे (188) रन की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत टीम इंडिया न्यूजीलैंड के सामने 557 रन का पहाड़ जैसा स्कोर रखने में कामयाब रही. खेल के दूसरे दिन भारत के सिर्फ दो विकेट गिरे. रोहित शर्मा (51) और रवींद्र जडेजा (17) रन बनाकर नॉटआउट लौटे. रोहित शर्मा ने सीरीज में अपनी तीसरी फिफ्टी लगाई.

कोहली और रहाणे के बीच हुई रिकॉर्ड साझेदारी
इस टेस्ट मैच में कप्तान विराट कोहली और अजिंक्या रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए रिकॉर्ड 365 रन की रिकॉर्ड साझेदारी हुई. इससे पहले ये रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर (241*) और वीवीएस लक्ष्मण (178) के पास था. जो उन्होंने 2003-04 ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में बनाया था.

पहले दिन का खेल
इंदौर टेस्ट मैच का पहला दिन टीम इंडिया के नाम रहा. शुरुआत में कुछ विकेट गिर जाने के बाद कप्तान कोहली और रहाणे ने भारतीय पारी को संभाला और एक बड़े स्कोर तक पहुंचाया. कोहली ने अपने टेस्ट क्रिकेट का 13वां शतक शतक पूरा. कोहली ने भारतीय जमीन पर तीन साल बाद टेस्ट शतक जमाया. ये कप्तान के तौर पर देश की धरती पर उनका पहला शतक है. आखिरी बार उन्होंने 22 फरवरी 2013 को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ चेन्‍नई में 107 रन की बेहतरीन पारी खेली थी. इससे पहले टेस्ट कप्तान के रूप में भारतीय मैदान पर विराट का बेस्ट स्कोर 88 रन था, जो उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2015 में अपने होमग्राउंड दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में बनाया था. इससे पहले कानपुर और कोलकाता टेस्ट मैच में वो कोई खास कमाल नहीं दिखा सके थे.

कोहली और रहाणे की बेहतरीन साझेदारी
विराट कोहली और अजिंक्या रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए 167 रन की बेहतरीन साझेदारी हुई. जिसकी बदौलत टीम इंडिया एक बड़ा स्कोर खड़ा करने में कामयाब रही. भारतीय टीम ने महज 60 रन पर ही दो विकेट खो दिए थे. इसके बाद 100 के स्कोर पर तीसरा विकेट भी गिर गया. इसके बाद कोहली और रहाणे ने बेहतरीन बल्लेबाजी कर टीम इंडिया को संकट से निकाला.

गंभीर को दो साल बाद मिला मौका
सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को दो साल बाद भारतीय टीम में मौका दिया गया. गंभीर ने अच्छी शुरुआत की उन्होंने 53 गेंदों में 29 रन की पारी खेली. जिसमें उन्होनें तीन चौके और दो छक्के लगाए. लेकिन वो अपनी इस पारी को एक बड़ी पारी में नहीं बदल सके और अपना विकेट दे बैठे.

पहले दिन भारत को लगे तीन झटके
मुरली विजय (10) रन बनाकर आउट हुए. दो साल बाद टेस्ट टीम में वापसी कर रहे गौतम गंभीर (29) के स्कोर पर चलते बने. तीसरे आउट होने वाले बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा रहे. वो 41 के स्कोर पर क्लीन बोल्ड हुए. न्यूजीलैंड की तरफ से जीतन पटेल, ट्रेंट बोल्ट और मिशेल सैंटनर ने एक-एक विकेट झटका.

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया
कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. सीरीज में कोहली ने लगातार तीसरी बार टॉस जीता. कोलकाता टेस्ट में जीत दर्ज करके सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुकी टीम इंडिया आखिरी टेस्ट मैच को जीतकर अपने घर पर एक और ‘क्लीन स्वीप’ की कोशिश करेगी. ये पहला मौका है जब इंदौर में टेस्ट मैच खेला जा रहा है.

भारतीय टीम ने किए दो बदलाव
इस मुकाबले में भारतीय टीम दो बदलावों के साथ मैदान पर उतरी. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की जगह गौतम गंभीर को मौका दिया गया है, जबकि तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की जगह उमेश यादव टीम में शामिल किए गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें