scorecardresearch
 

बुझ गई एक और निर्भया! देखें कलेजा छलनी कर देने वाली वारदात

बलात्कारी आसमान से नहीं टपकते, इन्हें पैदा करती है हमारी और आपकी ही सोच. नफरत की जो दुनिया हमने बनाई है उससे छुटकारा दिलाने के लिए कोई आसमान से नहीं आएगा. इससे आपको ही लड़ना है. हर निर्भया के लिए सिर्फ मोमबत्तियां जला और बुझा कर ये लड़ाई नहीं जीती जा सकती. इसलिए हैदराबाद की डाक्टर के लिए भी महज़ मोमबत्तियां जला-बुझा कर खामोश मत हो जाइए. देखें वारदात.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें