scorecardresearch
 

मैं भाग्य हूं: अच्छे कर्मों से चमकाएं अपना भाग्य

मैं भाग्य हूं: अच्छे कर्मों से चमकाएं अपना भाग्य

इस धरती पर भगवान लोगों को कुछ भी दे दे लेकिन संतोष का धन इंसान को खुद ही कमाना पड़ता है. मैं भाग्य हूं. इंसान की नीयत. मुझे मुकद्दर का नाम दीजिए या किस्मत का, लेकिन मैं बदलता नहीं हूं. मैं तो वही हूं, आपके कर्मों का फल. कहते हैं कि हमें अपने कर्मों का फल इसी जीवन में भुगतना पड़ता है. एक अंधे व्यक्ति की कहानी के माध्यम से जानिए कि आप अपना भाग्य अपने कर्मों से कैसे चमका सकते हैं.

They say that man make his own destiny and good deeds help a person to live a happier life. In this episode of Main Bhagya Hoon, we will tell you story of a blind man. Also, we will tell you your daily horoscope. Watch this video for more details.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें