scorecardresearch
 

एक और एक ग्यारह

कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह ने ज्ञानवापी सर्वे पर पेश की 12 पन्नों की रिपोर्ट

19 मई 2022

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर विवाद अपने पूरे ऊरूज पर है. हिंदू पक्ष इसे मंदिर बता रहा है. मुस्लिम पक्ष इससे इनकार कर रहा है. इसी बीच अदालत के आदेश पर किए गए सर्वे की रिपोर्ट में गुरुवार को अदालत में सौंप दी गई. ज्ञानवापी सर्वें पर पूर्व कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा ने 6 और 7 मई की तारीख की रिपोर्ट को कोर्ट में पेश कर दिया है. ज्ञानवापी मस्जिद पर बनाई ये रिपोर्ट दो पन्नों की है. वहीं कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह ने 12 पन्नों की रिपोर्ट दर्ज की है. अब अदालत को आखिरी फैसला करना है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि ज्ञानवापी के इतिहास से लेकर मौजूदा विवाद तक की पूरी कहानी आख़िर क्या है?

Gyanvapi survey: ज्ञानवापी पर कोर्ट कमिश्नरों के बीच क्या हुआ, देखें?

18 मई 2022

ज्ञानवापी की विवाद-कथा में लगातार नए-नए अध्याय जुड रहे हैं. दोनों पक्ष हक की इस लडाई में पूरा जोर लगा रहे हैं. नंदीजी के सामने की दीवार गिराने वाली अर्जी पर आज सुनवाई नहीं हो सकेगी. ये सुनवाई इसलिए रोकी गई है क्योकि वाराणसी में आज वकीलों की हड़ताल है. वाराणसी में खटपट तो सर्वे टीम में भी हो गई. अब से स्पेशल कमिश्वर सर्वे की रिपोर्ट का सिरा संभालेंगे और कोर्ट ने कोर्ट कमिश्वर को कई आरोपों के बाद वापसी का रास्ता दिखा दिया. अब दोनों वकील कोर्ट के बाहर ही दलीलों के साथ हमलावर हैं. देखें अजय मिश्रा और विशाल सिंह में आरोप प्रत्यारोप का जब चला दौर.

ज्ञानवापी पर टीम के लोगों की अलग-अलग राय क्यों?

17 मई 2022

ज्ञानवापी मस्जिद पर आज रिपोर्ट जमा करने का दिन है, लेकिन कोर्ट कमिश्नरों की अपनी रिपोर्ट की तैयारी को लेकर अलग अलग राय है. सबसे बड़ी बात जो कल सामने आई थी वो ये कि मस्जिद परिसर में सर्वे के दौरान शिवलिंग मिलने का दावा किया गया. लेकिन मुस्लिम पक्ष इसे खारिज कर रहा है और फव्वारा बता रहा है. आज हुई सुनवाई में वकीलों ने दो दिन का समय और मांगा है रिपोर्ट पेश कर के लिए. दलील दी गई कि वीडियो फुटेज 5 घंटे का है, जिसे देखकर पूरी रिपोर्ट बनाना थोड़ा समय लेने वाला काम है. आजतक पर एक्सक्लूसिव देखिए वो दलील की कॉपी जो कोर्ट में दी गई.

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा ज्ञानवापी मस्जिद का मामला, स्टे की याचिका दायर

13 मई 2022

ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया. वाराणसी की अंजुमन ए इंतेजामिया मस्जिद कमेटी ने सर्वे को रोकने के लिए याचिका दायर की. हालांकि सुप्रीम कोर्ट तुरंत रोक लगाने से इनकार कर दिया और चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) एनवी रमन्ना ने कहा है कि मैंने अभी याचिका नहीं देखी है, मामले को देखूंगा. वहीं ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का काम कल यानी शनिवार से शुरू होगा. मुस्लिम पक्ष के साथ वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने मीटिंग के बाद बताया कि कल से सर्वे कमीशन की कार्यवाही एडवोकेट कमिश्नर के द्वारा की जाएगी, इसको लेकर सभी पक्ष के लोगों के साथ बैठक हुई है और शांति व्यवस्था बनाए रखने की की अपील गई है. देखें

ज्ञानवापी मस्जिद पर कानूनी लड़ाई, आज आएगा फैसला

12 मई 2022

काशी के ज्ञानवापी मस्जिद पर आज कानूनी लड़ाई पूरी रफ्तार से आगे बढ़ने वाली है. आज वाराणसी की कोर्ट में ये फैसला होना है कि ज्ञानवापी मस्जिद के भीतर सर्वे कराया जाए या नहीं. कोर्ट ने सर्वे कमिश्नर नियुक्त किया था. उनके कामकाज के तरीकों को लेकर भी सवाल उठा है तो अदालत को ये तय करना है कि मौजूदा कोर्ट कमिश्ननर को जारी रखा जाए या नहीं. देखें एक और एक ग्यारह.

राजद्रोह कानून पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, देखें कोर्ट ने क्या कहा

11 मई 2022

राजद्रोह कानून पर आज सुप्रीम कोर्ट में फिर सुनवाई हो रही है. सरकार ने कोर्ट को बताया कि जब तक राजद्रोह क़ानून पर पुनर्विचार होगा तब तक कुछ उपाय किये जा सकते हैं. सरकार ने इस सम्बंध में कुछ उपाय का मसौदा बनाया है. सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि हालांकि संज्ञेय अपराध के मामले में FIR दर्ज करने से हम रोक नहीं सकते हैं लेकिन राजद्रोह कानून दर्ज करने के लिए SP रैंक के अधिकारी की इजाजत लेनी होगी. राजद्रोह के अनगिनत मामले अदालतों के सामने लंबित हैं इसलिए इसमें अदालतों को ही तय करना होगा. इन धाराओं से जुड़े मामलों में जमानत की अर्जी पर शीघ्र सुनवाई का प्रावधान होगा.

दिल्ली में अतिक्रमण पर एक्शन, आज मंगोलपुरी में चला बुलडोजर

10 मई 2022

दिल्ली में अतिक्रमण के खिलाफ बुलडोजर का एक्शन लगातार जारी है. दिल्ली नगर निगम की कार्रवाई आज भी जारी है. आज दिल्ली के मंगोलपुरी में बुलडोजर पहुंचा है. दिल्ली पुलिस की एयर पैरामिलिट्री फ़ोर्स गलियों में तैनात कर दी गई. यहां भी लोगों ने खुद अतिक्रमण हटा लिया है. वहीं एमसीडी टीम और आप विधायक मुकेश अहलावत के बीच कहासुनी भी हुई. इसके बाद आप विधायक मुकेश अहलावत बुलडोजर के सामने लेट गए. हालांकि, पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है. SDMC टीम के साथ दिल्ली पुलिस और पैरा फोर्स के जवान भी शामिल रहे, ताकि कानून व्यवस्था को बनाए रखा जाए. देखें

BJP में उबाल, दिल्ली में तेजिंदर बग्गा गिरफ्तार, बंगाल में कार्यकर्ता की मौत

06 मई 2022

पंजाब पुलिस ने सुबह सुबह दिल्ली से बीजेपी नेता तेजिंदर बग्गा को गिरफ्तार कर लिया है. बग्गा पर साइबर सेल में मामला दर्ज किया गया है और उनपर केजरीवाल के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप है. बग्गा की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी नेता आप-केजरीवाल और पंजाब सरकार पर लगातार हमले कर रहे हैं. कोलकाता के चितपुर इलाके में एक बीजेपी कार्यकर्ता का शव मिलने से एक बार फिर सियासत गरमा गई है. अर्जुन चौरसिया नाम के इस कार्यकर्ता का शव फांसी के फंदे से लटका मिला. बीजेपी ने कार्यकर्ता की हत्या का आरोप लगाया है. देखें एक और एक ग्यारह.

डेढ सालों में 5 सुरंगों तक पहुंची BSF, पाक की साजिश हुई डिकोड

05 मई 2022

एक सुरंग के जरिए पाकिस्तानी दहशतगर्दों ने अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले की खौफनाक साजिश रची थी. आतंकी 30 जून से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा के खिलाफ साजिश रच रहे थे. इसी सुरंग के जरिए पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ कर दहशतगर्द नापाक इरादों को अंजाम देने की फिराक में थे. लेकिन BSF के अलर्ट जवानों ने वक्त रहते अमरनाथ यात्रा के खिलाफ आतंकी साजिश को नाकाम कर दिया. पाकिस्तान से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा से महज 150 मीटर दूर इस सुरंग का खुलासा हुआ है. ऐसा लगता है कि इसे हाल ही में खोदा गया है. देखें एक और एक ग्यारह.

Jodhpur Violence: आज सुबह फिर पथराव, उपद्रवियों ने की तोड़फोड़

03 मई 2022

जोधपुर में ईद पर कोहराम मचा है. सुबह फिर उप्रदवियों ने पत्थरबाजी और गाड़ियों में तोड़फोड़ की है. ईद की नमाज के बाद जालौरी चौक पर भारी भीड़ जुट गई और नारेबाजी करने लगी. भीड़ को तितरबितर करने के लिए पुलिस ने जमकर डंडे चलाए. पूरे इलाके में तनाव बना हुआ है, पुलिस फ्लैग मार्च कर रही हैं. इस बीच प्रशासन ने चौक पर वापस तिंरगा झंडा लगा दिया है. कल रात भगवा झंडा हटाने और लाउडस्पीकर लगाने को लेकर दो गुटों में तनाव हो गया था. जोधपुर हिंसा पर सीएम गहलोत ने कड़ा रुख अपनाते हुए कहा कि उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. राजस्थान सरकार ने जोधपुर में पुलिस और प्रशासन को किसी भी हाल में शांति व्यवस्था बनाए रखने के आदेश दिये हैं.

भव्य स्वागत के बीच पीएम ने की बच्चों से बात, भारतीयों से की मुलाकात

02 मई 2022

आज से पीएम मोदी का तीन दिन का यूरोप दौरा शुरू हो रहा है. तीन दिन में मोदी तीन देशों की यात्रा करेंगे और आठ बडे नेताओं से बात करेंगे. भारत अपनी कूटनीति के जरिये यूरोप को साधेगा क्योंकि जंग को लेकर समूचा यूरोप रूस से खफा है. उधर भारत का अब तक रूस को लेकर नरम रुख रहा है. रूस और यूक्रेन के बीच दो महीने से ज्यादा वक्त से जारी जंग की तपिश पूरा यूरोप महसूस कर रहा है और इसी चुनौतीपूर्ण माहौल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल की अपनी पहली विदेश यात्रा पर रवाना हुए, जिसमें वो यूरोप के तीन शक्तिशाली देशों का दौरा करेंगे.

'आवाज' से नमाज तक... एक्शन-रिएक्शन!

29 अप्रैल 2022

Loudspeaker in Uttar Pradesh: उत्तरप्रदेश में लाउडस्पीकर की बोलती बंद है. यूपी को लाउडस्पीकरों से मुक्ति दिलाने का अभियान तेजी से आगे बढ रहा है. यूपी में आज का दिन एक बार फिर पुलिस और सरकार के लिए इम्तेहान का दिन है. योगी सरकार एक तरफ लाउडस्पीकर पर एक्शन कर रही है जिन्हें लगातार उतारा जा रहा हैं. तो दूसरी तरफ रमजान की अलविदा नमाज को लेकर सुरक्षा की भी चुनौतियां है. योगी सरकार ने अलविदा नमाज के लिए खास तैयारी की है. नमाज के लिए लोकेशन तय कर दिए हैं तो कानून-व्यवस्था के मोरचे पर भी पूरी मुस्तैदी बढा दी है.

असम के दीफू में PM मोदी का भव्य स्वागत, देखें क्या कहा

28 अप्रैल 2022

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के दीफू में शांति, एकता और विकास रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, आज 2014 के बाद से नॉर्थ ईस्ट में मुश्किलें कम हो रही हैं, लोगों का विकास हो रहा है. आज जब कोई असम के जनजातीय क्षेत्रों में आता है, नॉर्थ ईस्ट के दूसरे राज्यों में जाता है, तो हालात को बदलते देखकर उसे भी अच्छा लगता है. पीएम मोदी ने कहा, ये सुखद संयोग है कि आज जब देश आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, तब हम इस धरती के महान सपूत लचित बोरफुकान की 400वीं जन्म जयंती भी मना रहे हैं. उनका जीवन राष्ट्रभक्ति और राष्ट्रशक्ति की प्रेरणा है. कार्बी आंगलोंग से देश के इस महान नायक को मैं नमन करता हूं.

राजस्थान के अलवर में बीजेपी ने निकाली आक्रोश रैली, देखें

27 अप्रैल 2022

राजस्थान के अलवर में मंदिरों पर बुलडोजर को लेकर बीजेपी सड़कों पर उतर आई है. आज अलवर में आक्रोश रैली निकाली गई, बीजेपी की ये आक्रोश रैली शहीद स्मारक से निकलकर कलेक्ट्रियेट तक पहुंची जहां सुरक्षा में पुलिस का भारी जमावाड़ा था. मंदिरो को तोड़े जाने को बीजेपी ने बड़ा मुद्दा बना लिया है और इस प्रदर्शन में साधु संत भी शामिल हैं. अशोक गहलोत सरकार ने इसे बीजेपी के निगम की कार्रवाई बताया था. बाद में सरकार ने मंदिरों को फिर से बनाने का एलान भी किया लेकिन आक्रोश बढ़ता गया. बीजेपी ने गहलोत सरकार को घरेने में पूरी ताकत से लगी है. देखें ये एपिसोड.

मुंबई में हनुमान चालीसा पर जंग जारी, देखें कहां पहुंचा विवाद

26 अप्रैल 2022

मुंबई में हनुमान चालीसा विवाद को लेकर कई मोर्चों पर जंग जारी है. सांसद नवनीत राणा की बेल पर आज सुनवाई होगी तो उद्धव सरकार ने समझा दिया है कि घर में रहकर पाठ करें. ठाकरे ने यहां तक कहा कि हनुमान चालीसा के नाम पर दादागीरी नहीं चलेगी. बाला साहेब का नाम लेकर ये भी जता दिया गया कि उन्हें मालूम है कि इस हाल से कैसे निपटा जाए. उधर सांसद नवनीत राणा की बेल पर दोपहर बाद सुनवाई होगी, जिसमें उन्होंने कहा है कि उनका इरादा नफऱत फैलाने का नहीं था. गिरफ्तारी को भी गैरकानूनी ठहराया और राजद्रोह के मामले को चुनौती भी दी. संजय राउत ने दो टूक कहा कि घर में रहें और पाठ करें. देखें

पीएम आवास पर सर्व धर्म पढ़ने की NCP की महिला नेता ने की मांग

25 अप्रैल 2022

महाराष्ट्र की सियासत में हनुमान चालीसा पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है. एक तरफ जहां अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति को मुंबई की अदालत ने जेल भेज दिया वहीं दूसरी तरफ एनसपीपी नेता फहमीदा हसन ने गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर पीएम निवास के बाहर नमाज और हनुमान चालीसा के पाठ की इजाजत मांगी है. इस बीच फहमीदा हसन ने आजतक से ख़ास बातचीत भी की और हनुमान चालीसा पढ़ी. इस वीडियो में देखें और क्या बोलीं एनसीपी की नेता?

हनुमान चालीसा का पाठ करने कब घर से निकलेंगी नवनीत? सांसद ने दिया जवाब

23 अप्रैल 2022

मुंबई में एक बार फिर हनुमान चालीसा को लेकर सियासी घमासान छिड़ गया है. निर्दलीय विधायक नवनीत राणा और उनके विधायक पति उद्धव ठाकरे के घर के बाहर हनुमाना चालीसा का पाठ करने पर अडे़ हैं. उधर महाराष्ट्र पुलिस से लेकर शिवसेना ने ऐसा नहीं करने देने की ठान ली है. मातोश्री की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. पुलिस के जवानों के साथ शिवसैनिक भी यहां डटे हैं. उधर नवनीत राणा को केंद्र सरकार ने खास सुरक्षा कवर दिया है. देखें

कश्मीर में एनकाउंटर, जहांगीरपुरी हिंसा में कार्रवाई पर सभी दल नाराज

22 अप्रैल 2022

दिल्ली में जहांगीपुरी को लेकर सियासी दौड़ चालू है. कांग्रेस के बाद टीएमसी-एसपी नेता वहां पहुंचने वाले हैं. तो उधर समाजवादी सांसद के विवादित बोल जारी हैं. शफीकुर्र रहमान बर्क का कहना है कि देश में बुलडोजर का राज है तो बीजेपी ने इसे भड़काऊ बयान करार दिया है. जहांगीरपुरी डिमोलिशन पर सियासत आज भी जारी है. आज विश्व हिंदू परिषद और इंडियन मुस्लिम लीग का एक डेलीगेशन पहुंचा और विरोध जताया. वीएचपी के राज्य अध्यक्ष कपिल खन्ना को रोक दिया गया. इलाके में कड़ी सुरक्षा है. सीसीटीवी लगाए जा रहे हैं. भारी तादाद में पुलिस बल तैनात है. आज मुस्लिम लीग की टीम भी इलाके में गई.

जहांगीरपुरी में अतिक्रमण की कार्रवाई पर रोक बरकरार, देखें कोर्ट में क्या-क्या हुआ

21 अप्रैल 2022

जहांगीरपुरी में उत्तरी दिल्ली नगर निगम की अतिक्रमण पर कार्रवाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई हुई. इस दौरान कोर्ट ने सभी पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद अतिक्रमण की कार्रवाई पर रोक जारी रखी है. सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता के वकील दुष्यंत दवे ने कहा, यह राष्ट्रीय महत्व का मसला. पहले कभी दंगे के बाद इस तरह की कार्रवाई नहीं हुई. एक समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है. देखें कोर्ट में और क्या-क्या हुआ.

दिल्ली हिंसा पर नेताओं की बयानबाजी, मिस्ट्री कॉल की जांच शुरू, देखें

19 अप्रैल 2022

दिल्ली हिंसा पर बयानबाजी भी तेज हो गई है. संजय राउत ने कहा कि चुनाव से पहले दंगों के जरिये माहौल बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा शोभा यात्रा भारत के बजाय क्या बांग्लादेश पाकिस्तान में निकलेगी. दिल्ली हिंसा में जांच मिस्ट्री कॉल पर अटक गई है. सूत्रों की मानें तो हनुमान जयंती के दिन जहांगीरपुरी में शोभायात्रा जैसे ही मस्जिद के पास पहुंची मुख्य आरोपी अंसार के पास एक फोन आया और फिर वो 4-5 लोगों को साथ लेकर शोभायात्रा में पहुंच गया और बहसबाजी करने लगा. देखते ही देखते बहस झड़प में बदल गई और पथराव शुरू हो गया.

हिंसा के सबूत जुटाने जहांगीरपुरी के मस्जिद पहुंची फोरेंसिक टीम, जांच जारी

18 अप्रैल 2022

दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा मामले में फोरेसिंक टीम गली गली साजिश के सबूत तलाश रही है. टीम जहांगीरपुरी की मस्जिद तक पहुंची है. जहांगीरपुरी हिंसा में दोनों मुख्य आरोपियों की हिरासत आज खत्म हो रही है. थोडी देर बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा. हिंसा के कई वीडियो की जांच चल रही है. जिसमें गोली से लेकर पथराव और तलवार लहराने तक के सबूत है. बता दें कि दिल्ली दंगों की जांच में अबतक 21 लोग पकडे जा चुके हैं. फोरेंसिक की भारी भरकम टीम जहांगीरपुरी पहुंची, मौके पर सबूत तलाश करेगी. हमारे सहयोगी अरविंद ओझा की देखिए रिपोर्ट