scorecardresearch
 

एक और एक ग्यारह

बिहार में जनता के लिए वादों की झड़ी, देखें BJP के विजन में क्या

22 अक्टूबर 2020

बिहार में बीजेपी ने वायदों की झड़ी लगा दी. तेजस्वी ने 10 लाख नौकरियां का वादा किया तो बीजेपी ने 19 लाख रोजगार का वादा किया है. बीजेपी ने 3 लाख नए शिक्षकों की भरती और 2022 तक गरीबों को 30 लाख मकान देने का भी वायदा किया है. देखें एक और एक ग्यारह.

पाकिस्तान: कराची की दो मंजिला इमारत में बड़ा धमाका, 3 की मौत

21 अक्टूबर 2020

पाकिस्तान के कारची की एक इमारत में दोरदार धमाका हुआ है. इस धमाके में 3 लोगों के मारे जाने की आशंका है जबकि अब तक 9 लोगों के घायल होने की खबर है. धमाका इतना जोरदार था कि इमारत धाराशायी हो गई. देखें एक और एक ग्यारह.

बिहार चुनाव में नक्सली हिंसा की साजिश, निशाने पर नेता-सुरक्षाबल

20 अक्टूबर 2020

बिहार चुनाव में नक्सली हिंसा की साजिश का बडा खुलासा हुआ है. खुफिया जानकारी मिली है कि नक्सली संगठन बड़े नेताओं को निशाना बना सकते हैं. जमुई, गया और औरंगाबाद मे आईईडी और लैंडमाइंस से नक्सली हमला करने की ताक में हैं. देखें एक और एक ग्यारह.

कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान पर देखें क्या बोलीं इमरती देवी

19 अक्टूबर 2020

मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा दिए गए बयान पर बवाल जारी है. इस पूरे बयान पर भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी इमरती देवी ने कहा है कि वो इस मामले में कानूनी एक्शन लेंगी. उन्होंने कहा कि क्योंकि मैं दलित जाति से हूं, इसलिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया. इमरती देवी ने कहा कि कमलनाथ जी को शब्दों का ज्ञान नहीं हैं, एक दलित महिला के लिए इस तरह की बयानबाजी की जा रही है. गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में उपचुनाव के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इमरती देवी पर विवादित टिप्पणी करते हुए उनके लिए 'आइटम' जैसे शब्द का प्रयोग किया था.

बलिया: पकड़ने बाद भी भागा आरोपी, अब खाक छान रही पुलिस

16 अक्टूबर 2020

बलिया गोलीकांड से हर कोई सन्न है. एक खेत में सैकड़ों की भीड़ है. एसओ है, सर्किल ऑफिसर है, एसडीएम है, सबकी मौजदूगी में दबंग गोलियों की बरसात कर देता है. एक शख्स की जान चली जाती है और पुलिस उसे रोक नहीं पाती. बात यहीं खत्म नहीं हो जाती. वारदात के वीडियो में साफ दिख रहा है कि पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ लिया है. लेकिन अब वो फरार है और पुलिस उसी की तलाश में छापेमारी कर रही है. देखिए ये रिपोर्ट.

हाथरस में CBI टीम का तीसरा दिन, देखें कितनी आगे बढ़ी जांच

15 अक्टूबर 2020

हाथरस मामले की जांच के लिए सीबीआई की टीम गांव में पहुंच चुकी है. आज टीम आरोपियों के परिवार वालों से पूछताछ कर रही है. आरोपियों को रिमांड पर लेकर भी सवाल जवाब की तैयारी है. सीबीआई टीम ने इससे पहले लगातार दो दिन तक पीडिता के परिवार वालों से पूछताछ की. भाई और मां से घंटों सवाल किए गए. सीबीआई टीम मौके से लेकर हर जगह जा रही है जहां से सबूत तलाशे जा सके. देखें एक और एक ग्यारह.

हाथरस कांड: CBI जांच का दूसरा दिन, पीड़ित परिवार से फिर होगी पूछताछ

14 अक्टूबर 2020

हाथरस कांड में सीबीआई जांच का आज दूसरा दिन है. कल सीबीआई ने इस केस की पड़ताल शुरु की थी. आज फिर सीबीआई पीड़िता के परिवार वालों से पूछताछ करने वाली है. सीबीआई दोनों परिवारों के बीच बातचीत की डिटेल भी मंगवा रही है ताकि सच की तह पहंचा जा सके. देखें रिपोर्ट.

CBI सामने लाएगी हाथरस का सच! देखें रिपोर्ट

13 अक्टूबर 2020

हाथरस कांड में सच सामने लाने का दारोमदार अब सीबीआई पर है. सीबीआई ने इस मामले की जांच शुरु कर दी है. पहली बार सीबीआई हाथरस के गांव से तहकीकात का ऑपरेशन शुरु कर रही है. थोडी देर में सीबीआई की टीम पहुंचने वाली है. देखें रिपोर्ट.

मुंबई: ग्रिड फेल में होने से कई इलाकों में बिजली गुल, देखें रिपोर्ट

12 अक्टूबर 2020

मुंबई में ग्रिड फेल में होने से कई इलाकों में बिजली चले गई है. इसका असर ईस्ट और वेस्ट मुंबई के अलावा suburbs पर पड़ा है. साथ ही ठाणे के एक बड़े इलाके में भी बिजली चले गई है. देखें वीडियो.

हाथरस: गांव के 40 लोगों से सवाल-जवाब, सच जानने में जुटी SIT

09 अक्टूबर 2020

हाथरस में साजिश पर बड़ा खुलासा हुआ है. इसके साथ ही SIT तेजी से जांच में जुटी हुई है. 40 लोगों को समन के बाद टीम इनसे पूछताछ में लगी हुई है. ये पूछताछ अभी जारी है. 14 सितंबर का सच जानने में जुटी हुई है SIT. देखें एक और एक ग्यारह.

हाथरस केस के आरोपियों ने लिखी चिट्ठी, पीड़ित परिवार पर लगाए ये आरोप

08 अक्टूबर 2020

हाथरस की वारदात के बहाने रची जा रही हिंसा की साजिश को लेकर लगातार खुलासे हो रहे हैं. हर उस साजिश का सच सामने आने लगा है जो हाथरस की बिटिया को इंसाफ दिलाने के नाम पर रची गई थी. यूपी पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है. जिसमें साजिश की पूरी डिटेल है. कैसे दो वेबसाइट के जरिए जातीय उन्माद फैलाने की साजिश रची जा रही थी. FIR में जिक्र है कि कैसे पकड़े गए 4 संदिग्ध हाथरस जाकर हिंसा की साजिश को अंजाम देते. पुलिस के मुताबिक वेबसाइट के जरिए जातीय हिंसा के लिए फंड जुटाया जा रहा था. साथ ही विदेश से भी फंडिंग हो रही थी. पुलिस का कहना है कि विदेशी फंडिंग की वैध प्रक्रिया नहीं अपनाई गई. ऐसे में तमाम विदेशी फंडिंग को जब्त किया जा सकता है. देखें एक और एक ग्यारह.