scorecardresearch
 

'लेडी फ्रेंडली' चिप्स लाने पर कंपनी की हो रही है आलोचना

इस लेडी फ्रेंडली वर्जन में डोरिटॉस कम क्रंची और कम आवाज करने वाला होगा. स्नैक्स का पैकेट भी अलग अंदाज में नजर आएगा जोकि लड़कियों के बैग में आसानी से फिट हो सके. कंपनी के मुताबिक, मार्केट रिसर्च में पता चला है कि महिलाएं बहुत तेज आवाज के साथ चिप्स खाना पसंद नहीं करती हैं.

लेडी फ्रेंडली चिप्स लेडी फ्रेंडली चिप्स

डोरिटॉस अब 'लेडी फ्रेंडली' होने जा रहा है. जी हां, आपने सही सुना. द टार्टिला चिप मेकर जल्द ही स्नैक्स का लेडी फ्रेंडली वर्जन लॉन्च करने वाली है.  इस लेडी फ्रेंडली वर्जन में डोरिटॉस कम क्रंची और कम आवाज करने वाला होगा.

यही नहीं, अब स्नैक्स का पैकेट भी अलग अंदाज में नजर आएगा जोकि लड़कियों के बैग में आसानी से फिट हो सके. कंपनी के मुताबिक, मार्केट रिसर्च में पता चला है कि महिलाएं बहुत तेज आवाज के साथ चिप्स खाना पसंद नहीं करती हैं.

गर्लफ्रेंड से शादी के बाद ऐसे बदल गई मेरी जिंदगी

पेप्सिको सीईओ इंदिरा नूई ने न्यू यॉर्क पोस्ट को बताया, आपने कई लड़कों को चिप्स खाते देखा होगा और चिप्स जब खत्म हो जाती है तो वे अपनी अंगुलियां भी चाटने लगते हैं. पैकेट में बचे हुए चिप्स को भी पैकेट से झाड़कर खा लेते हैं क्योंकि वह इसे बेहद पसंद करते हैं और वह किसी भी सूरत में पैकेट में बचे टूटे चिप्स का नुकसान नहीं सहना चाहते हैं. महिलाएं भी ऐसा ही करना चाहती हैं लेकिन वे करती नहीं हैं. वे सार्वजनिक स्थानों पर ज्यादा आवाज करके नहीं खाती हैं और वे अपनी अंगुलियां भी नहीं चाटती हैं.

कंपनी के इस फैसले की आलोचना की जा रही है. कई लोगों का मानना है कि इस तरह के कदमों से जेंडर स्टीरियोटाइप और मजबूत होगा. लड़के और लड़कियों के बीच चली आ रही सोच को और बढ़ावा मिलेगा. जैसे लड़कियों को आवाज करके नहीं खाना चाहिए, उन्हें खुलकर नहीं हंसना चाहिए इत्यादि.

इसके अलावा लोगों ने इस पर भी जोर दिया है कि महिलाओं के लिए समान कीमत पर छोटा पैकेट लाने के कदम से कई कस्टमर उससे दूरी बना लेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें