scorecardresearch
 

क्रिकेट के मैदान से पहले कहां-कहां खिलता रहा है गुलाबी रंग?

गुलाबी रंग लाल रंग का उदार रूप है इसीलिए इसे महिलाओं का रंग भी माना जाता है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

भारत में पहली बार गुलाबी गेंद से डे-नाइट टेस्ट खेला जा रहा है. ईडन गार्डन्स में शुक्रवार को तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच की पहली गुलाबी गेंद फेंकी. क्रिकेट के मैदान में भले ही गुलाबी गेंद के इस्तेमाल को लेकर खिलाड़ियों के मन में उथल-पुथल रहती है लेकिन गुलाबी रंग हमेशा से शांति का प्रतीक रहा है.

गुलाबी रंग में लाल रंग भी है और सफेद रंग भी. जब गहरे लाल रंग की आक्रामकता हटाकर उसमें शांति के रंग सफेद को मिलाया जाता है तो प्यार और सकारात्मकता का रंग गुलाबी बन जाता है. लाल रंग में रौद्रता है, ऊर्जा है, पैशन है तो गुलाबी सौम्य और शांत है.

गुलाबी रंग को गुस्सा और तनाव शांत करने से भी जोड़कर देखा जाता है और कई बार हिंसक अपराधियों की जेल को इसी रंग से रंगा जाता है ताकि उन पर सकारात्मक असर पड़े. कई स्पोर्ट्स टीम विरोधी दलों के एग्रेसन को को कम करने के लिए उनके लॉकर रूम्स को गुलाबी रंग से रंगवाती है. पिंक ऐसा रंग है जो मूड को खुशनुमा बनाने में मदद करता है.

महिलाओं का रंग माना जाता है गुलाबी

गुलाबी रंग को फेमिनाइन कलर के तौर पर देखा जाता है. गुलाबी रंग लाल रंग का उदार रूप है इसीलिए इसे महिलाओं का रंग भी माना जाता है. जब भी महिलाओं के लिए कुछ अलग या खास किया जाता है तो उस गुलाबी रंग ही दिया जाता है. फिर चाहे वो मेट्रो में महिलाओं का कोच हो या महिलाओं के लिए पिंक ऑटो.

कई जगहों पर महिलाओं को मिलने वाले बस पास का रंग भी गुलाबी होता है. गुलाबी रंग रोमांस और चार्म का भी प्रतिनिधित्व करता है. गुलाबी रंग को शर्मो-हया का रंग भी माना जाता है. यही वजह है कि किसी के शरमा जाने पर उसके गालों के गुलाबी होने की मिसाल दी जाती है.

गुलाबी रंग कई मजबूत और ताकतवर महिलाओं ने भी अपनाया. लिन पेरिल ने अपनी किताब 'पिंक थिंक' में पेशेवर रेस कार ड्राइवर डोना मै मिम्स की मिसाल दी है. डोना खुद को 'पिंक लेडी' बुलाना पसंद करती थी. पेरिल के मुताबिक, मिम्स में यकीनन मर्दों से टक्कर लेने का हौंसला रहा होगा लेकिन गुलाबी रंग ने आलोचकों को उनके प्रति थोड़ी नरमी बरतने और यह सोचने में मदद की कि वह दिल से तो एक लड़की ही है. बॉलीवुड में औरतों के खिलाफ होने वाले यौन शोषण पर बनी फिल्म को भी 'पिंक' ही नाम दिया गया था.

एलजीबीटी की पहचान

दुनियाभर के समलैंगिक लोग अपनी एकजुटता दिखाने के लिए रेनबो फ्लैग लहराते हैं. ये झंडा एलजीबीटी समुदाय की पहचान है. रेनबो फ्लैग में आठ रंग होते हैं और हर रंग का कोई मतलब है. यहां झंडे में शामिल गुलाबी रंग की पहचान सेक्शुएलिटी से की जाती है.

नशे का रंग भी गुलाबी

शायरों ने भी अपने शायरियों में जमकर गुलाबी रंग बिखेरा है. मयखाने से निकले शराबी की आंखों का रंग भी गुलाबी होता है तो कई बार प्रेमिका की गुलाबी आंखों को देखकर ही नशा हो जाता है.

ब्रेस्ट कैंसर की जागरूकता के लिए पिंक

ब्रेस्ट कैंसर के प्रति समाज में जागरूकता फैलाने के लिए पिंक रिबन भी का इस्तेमाल कैंपेन के तौर पर किया जाता है. ब्रेस्ट कैंसर के प्रति अवेयरनेस लाने के लिए ही स्पेशल पिंक रिबन स्पोर्ट्स ब्रा भी डिजाइन की जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें