scorecardresearch
 

घास पर नंगे पांव चलना बेहद फायदेमंद, कभी नहीं होंगी ये 4 बीमारियां

अक्सर आपने लोगों को सुबह और शाम पार्क में सैर करते देखा होगा. कभी न कभी आपको भी डॉक्टर्स ने पार्क में टहलने की सलाह जरूर दी होगी. लेकिन पार्क में टहलने का सही तरीका क्या है इसके बारे में शायद ही आपको कोई जानकारी दे.

क्या आप जानते हैं कि पार्क में नंगे पांव टहलने से आप कई खतरनाक बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। क्या आप जानते हैं कि पार्क में नंगे पांव टहलने से आप कई खतरनाक बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

क्या आप जानते हैं कि पार्क में शूज पहनकर टहलने से ज्यादा फायदेमंद घास में नंगे पांव घूमने से होता है. आइए जानते हैं कि पार्क में नंगे पांव टहलने से आप किन खतरनाक बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

पैरों में नहीं होगी सूजन-

अक्सर बढ़ती उम्र के साथ लोगों को पैरों में सूजन की शिकायत रहने लगती है कि. डॉक्टर्स की फीस चुकाते-चुकाते आपका बैंक अकाउंट खाली हो जाता है, लेकिन आपको राहत नहीं मिलती. घास में नंगे पैर टहलने से आप इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं. इससे ऑक्सीजन युक्त ब्‍लड आपकी बॉडी में सही ढंग से सर्कुलेट होता है और पैरों में सूजन नहीं होती.

अनिद्रा को कंट्रोल करें-

नींद न आने की बीमारी को अनिद्रा कहा जाता है. यह एक स्‍लीपिंग डिसऑर्डर है. इस बीमारी में इंसान पर्याप्त नींद नहीं ले पाता. लेकिन नंगे पांव घास पर टहलने से आप इस परेशानी से मुक्ति पा सकते हैं. शाम के वक्त आपको करीब 15 मिनट रोज नंगे पांव घास में टहलना होगा.

आंखों की रोशनी होगी तेज-

आपको बता दें कि हमारे पैरों में एक प्रेशर पॉइन्‍ट होता है. घास पर सुबह नंगे पैर चलने से यह प्रेशर पॉइन्‍ट दुरुस्त रहता है. ऐसा माना जाता है कि घास के हरे रंग को देखने से आंखों को राहत मिलती हैं. घास पर सुबह की ओस आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद होती है.

नर्वस सिस्‍टम होगा दुरुस्त-

नंगे पांव घास पर चलने से पैर के विशिष्ट एक्यूपंक्चर पॉइन्‍ट उत्तेजित होते हैं जो हमारी नर्वस को उत्तेजित करने में हेल्‍प करते है, जिससे हमारे नर्वस सिस्‍टम में सुधार होता है. रेगुलर नंगे पैर घास पर चलने से वैरिकोज वेन्‍स के कारण दर्द, विशेष रूप से डायबिटीज के रोगियों के बीच, कम किया जा सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें