scorecardresearch
 

NEET PG: दाखिले में आरक्षण के मानदंड पर क्या विशेष बेंच करेगी सुनवाई? सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को मामला

NEET PG दाखिले में ऑल इंडिया स्तर पर EWS कोटे को लेकर उठे विवाद में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से फिर से तुरंत सुनवाई की गुहार लगाई. केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल ने चीफ जस्टिस की अदालत में मेंशन करते हुए आज फिर कहा कि डॉक्टर इस मामले को लेकर चिंचित हैं. सुप्रीम कोर्ट में ये मामला बुधवार को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध है.

Court. Court.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केंद्र सरकार ने कहा: डॉक्टर इस मामले को लेकर चिंचित
  • CJI बोले, तीन जजों की बेंच का गठन करने पर विचार करेंगे

NEET PG दाखिले में ऑल इंडिया स्तर पर EWS कोटे को लेकर उठे विवाद में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से फिर से तुरंत सुनवाई की गुहार लगाई. केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल ने चीफ जस्टिस की अदालत में मेंशन करते हुए फिर कहा कि डॉक्टर इस मामले को लेकर चिंचित हैं. सुप्रीम कोर्ट में ये मामला बुधवार को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध है.

CJI जस्टिस एन वी रमणा ने कहा कि वो कल (5 जनवरी) तीन जजों की बेंच का गठन करने पर विचार करेंगे. सीजेआई ने कहा कि इस मामले में तीन जजों की बेंच का गठन करना है. ये पूरा हफ्ता मिसलेनियस मैटर्स यानी नए मामलों की सुनवाई का है. हम देखते हैं कि क्या कल यानी बुधवार को तीन जजों की बेंच का गठन किया जा सकता है?

बता दें कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की थी कि मेडिकल स्टूडेंट्स के दाखिले से जुड़े Neet PG आरक्षण केस में जल्द सुनवाई की जाए.  मेडिकल छात्र-छात्राओं की दाखिले के लिए काउंसिलिंग नहीं हो रही है. इससे स्टूडेंट्स के साथ-साथ डॉक्टर बिरादरी भी बेहद खफा है. इस मुद्दे पर मिले आश्वासन के बाद डॉक्टरों ने हाल ही में अपनी हड़ताल खत्म की है.

नीट पीजी कोर्स में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए रिजर्वेशन को लेकर केंद्र सरकार अपने पुराने रुख पर कायम है. केंद्र सरकार ने एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को बताया था कि इस साल वह 8 लाख रुपये तक की सालाना आय वाले अभ्यर्थियों को कोटे का लाभ देना चाहती है. कोर्ट इसे कम से कम इस साल के लिए मंजूरी दे तो दाखिले के लिए काउंसिलिंग शुरू की जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×