scorecardresearch
 

केदारनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसा, 8 लोगों की मौत

शनिवार को केदारनाथ हाईवे पर चंडीधार में एक बड़ा हादसा हो गया. इस स्थान पर ऊपरी पहाड़ी से बोल्डर और मलबा गिर गया, जिस कारण दो बाइकें मलबे की चपेट में आ गई, जबकि भारी बोल्डर ने कार को गहरी खाई में धकेल दिया.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • बाइक सवार युवकों पर गिरा मलबा, बोल्डर की चपेट में आई कार
  • मरने वालों में दो बाइकों में तीन और कार में सवार थे पांच लोग

केदारनाथ मार्ग में शनिवार देर रात फाटा के पास चंडीधार में हुए हादसे में आठ लोगों की दर्दनाक मौत हो गई. बताया जा रहा है कि दो बाइकों में सवार तीन लोग भगवान केदारनाथ की यात्रा पर जा रहे थे, जबकि कार में सवार पांच लोग सीतापुर से मैखण्डा की ओर आ रहे थे.

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, शनिवार को केदारनाथ हाईवे पर चंडीधार में एक बड़ा हादसा हो गया. इस स्थान पर ऊपरी पहाड़ी से बोल्डर और मलबा गिर गया, जिस कारण दो बाइकें मलबे की चपेट में आ गई, जबकि भारी बोल्डर ने कार को गहरी खाई में धकेल दिया. घटना के बाद राजमार्ग पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया. दो बाइकों में सवार तीन युवकों को स्वास्थ्य केन्द्र फाटा पहुंचाया गया, जहां चिकित्सकों ने युवकों को मृत घोषित किया.

कड़ी मशक्कत के बाद शव बरामद

देर रात अंधेरा होने के कारण खाई में गिरी कार का कोई अता-पता नहीं चल पाया. एसडीआरएफ और पुलिस की टीम देर रात तक सर्च अभियान चलाती रही, मगर कुछ भी हासिल नहीं हो पाया. जिसके बाद रविवार सुबह 6 बजे से फिर से रेस्क्यू अभियान शुरू किया गया. एसडीआरएफ, पुलिस और आपदा की टीम रस्स्सी के सहारे खाई में गई और कार में सवार पांच मृत लोगों के शवों को राजमार्ग पर लाने को कार्य शुरू किया गया.

करीब सात घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शवों को राजमार्ग पर लाया गया. वहीं जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने घटना स्थल का जायजा लिया. उन्होंने कहा, 'घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है. यदि कार्य के दौरान मलबा गिरा है तो कार्यदायी संस्था के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जायेगी.' उन्होंने उप जिलाधिकारी को मजिस्ट्रीय जांच के आदेश दिये हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें