scorecardresearch
 

मोदी से ज्यादा कमेटियों में अमित शाह, निर्मला सीतारमण तीसरी सबसे ज्यादा कद्दावर

नरेंद्र मोदी सरकार ने कुल 8 कैबिनेट समितियों का गठन किया है. इन समितियों में जानिए किन मंत्रियों को तवज्जो मिली और किनको नहीं.

पीएम मोदी और अमित शाह. पीएम मोदी और अमित शाह.

2014 में जब मोदी सरकार बनी थी तो बतौर गृह मंत्री राजनाथ सिंह को कैबिनेट की राजनीतिक मामलों की कमेटी में जगह मिली थी. ये वो कमेटी होती है, जिन्हें नीतिगत फैसलों के लिहाज से अहम माना जाता है. मगर अब मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में राजनाथ सिंह का नाम न तो राजनीतिक और न ही संसदीय मामलों की कमेटी में है. जिन 8 कैबिनेट कमेटियों का गठन सरकार ने किया है, उसमें पीएम मोदी के तुरंत बाद शपथ लेने वाले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को सिर्फ 2 कमेटियों में ही जगह मिली है.

कैबिनेट कमेटियों में मौजूद नामों से इस बात का पता चलता है कि मोदी सरकार 2.0 में कौन कितना ताकतवर है. गृह मंत्री अमित शाह सभी 8 कैबिनेट समितियों के मेंबर हैं. इससे उनके कद का अंदाजा लगाया जा सकता है. साथ ही पता चलता है कि अमित शाह सिर्फ गृह मंत्रालय की भूमिका तक ही सीमित नहीं रहेंगे, बल्कि वे हर तरह की कमेटियों में लिए गए फैसलों में शामिल रहेंगे. कैबिनेट कमेटियों में मिली जगह के हिसाब से देखे तो मंत्रियों की सूची में नंबर तीन पर भले ही अमित शाह का नाम है, मगर वह सरकार में नंबर दो की भूमिका में रहेंगे. राजनाथ सिंह से कहीं ज्यादा कमेटियों में  निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल और नितिन गडकरी शामिल हैं. अमित शाह के बाद सबसे ज्याद 7 कमेटियो में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण हैं, वहीं पीयूष गोयल 5 और नितिन गडकरी तथा कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर चार-चार कमेटियों में हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसदीय और आवास कमेटी को छोड़कर अन्य सभी में हैं.

किस कमेटी में कौन शामिल

अप्वाइंटमेंट कमेटी ऑफ द कैबिनेट कमेटी में सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह शामिल हैं. वहीं कैबिनेट कमेटी ऑन अकोमडेशन में गृह मंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, रेल मंत्री पीयूष गोयल हैं.

इसी तरह कैबिनेट कमेटी ऑन इकोनॉमिक अफेयर्स में पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, सदानंद, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर बादल, एस जयशंकर, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान हैं.

जबकि कैबिनेट कमेटी ऑन पार्लियामेंट अफेयर्स में गृह मंत्री अमित शाह, निर्मला सीतारमण, राम विलास पासवान, नरेंद्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, थावर चंद गहलोत, प्रकाश जावड़ेकर, प्रह्लाद जोशी को शामिल किया गया है.

 कैबिनेट कमेटी ऑन पॉलिटिकल अफेयर्स में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, राम विलास पासवान, नरेंद्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर बादल, डॉ. हर्षवर्धन, पीयूष गोयल, अरविंद गनपत सांवत, प्रह्लाद जोशी को जगह मिली है.

कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी में पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, निर्मला सीतारमण, एस जयशंकर बतौर सदस्य शामिल हैं.

कैबिनेट कमेटी ऑन इनवेस्टमेंट एण्ड ग्रोथ  में पीएम मोदी, अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल हैं. वहीं कैबिनेट कमेटी ऑन इम्पलॉयमेंट एंड स्किल डेवलेपमेंट में पीएम मोदी, अमित  शाह, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर, पीयूष गोयल, रमेश पोखरियाल निशंक, महेंद्र नाथ पाडेय, संतोष कुमार गंवागर, हरदीप सिंह पुरी शामिल हैं. वहीं नितिन गडकरी, हरसिमरत कौर बादल, स्मृति जुबिन इरानी, प्रह्लाद सिंह विशेष आमंत्रित सदस्य हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें