scorecardresearch
 

विकास के नाम पर लूट हो रही है उत्तराखंड में: सोनिया

कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने रूड़की में मंगलवार को एक चुनावी रैली में कहा कि विकास के नाम पर प्राकृतिक संसाधनों को लूट रही है राज्‍य सरकार.

सोनिया गांधी सोनिया गांधी

कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तराखंड में सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी पर करारा हमला करते हुये कहा कि राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार के चलते ही भाजपा को बार बार मुख्यमंत्री बदलना पड़ा है.

सोनियां गांधी अलमोड़ा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शासनकाल में भ्रष्टाचार के चलते कोई विकास नहीं हुआ. इस राज्य के गठन के बाद जो भी विकास कार्य दिखाई दे रहे हैं, वह सिर्फ वर्ष 2002 से 2007 तक कांग्रेस शासन में ही किये गये थे.

उन्होंने कहा कि भाजपा की लोगों के प्रति दुभार्वना तथा विकास कार्यों में कोई रुचि नहीं दिखाने के चलते पहाड़ों से युवकों और परिवारों का पलायन तेजी से बढ़ा है. सोनिया ने लोगों से अपील की कि उत्तराखंड में विकास को आगे बढ़ाने तथा युवा पीढ़ी के उज्जवल भविष्य के लिये कांग्रेस की सरकार बनाने में मदद करें ताकि इस राज्य में फिर से लोग सकून महसूस कर सकें.

उन्होंने कहा कि केन्द्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार ने उत्तराखंड में भारतीय प्रबंधन संस्थान, राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) सहित कई विकासकारी कार्य किये. इसके साथ-साथ ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन बिछाने की योजना की शुरूआत की गयी है.

सोनिया ने कहा कि वह जब भी उत्तराखंड आती हैं तो उनको यहां की संस्कृति देखकर बेहद खुशी होती है. यह धरती ऐतिहासिक है. इस धरती से उनके परिवार का गहरा नाता रहा है. जवाहरलाल नेहरू ने काफी समय तक अल्मोड़ा की जेल में अपना जीवन गुजारा था. महात्मा गांधी ने अपनी आत्मकथा सत्य के प्रयोग के कुछ हिस्सों को यहीं लिखा था.

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में पेयजल, बिजली, कृषि तथा अन्य कई प्रकार की समस्यायें हैं जिसे देखकर उन्हें काफी तकलीफ होती है. इन क्षेत्रों में खुशहाली लाने के लिये केन्द्र में संप्रग की सरकार द्वारा काफी मदद की जाती है लेकिन उत्तराखंड में भाजपा की सरकार उस मदद का सही उपयोग नहीं करती है. भाजपा का इस क्षेत्र के विकास पर कोई ध्यान नहीं है.

सोनिया ने कहा कि उनकी पार्टी ने हमेशा विकास कार्यों पर ध्यान दिया है. बच्चों की शिक्षा के लिये शिक्षा का अधिकार अधिनियम बनाया गया. इसी तरह अन्य जरूरतों के लिये भी उनकी पार्टी की सरकार ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं. उन्होंने कहा कि दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी की अदूरदर्शी नीति के चलते उत्तराखंड के पहाड़ी और मैदानी इलाकों में गैर बराबरी की भावना पनप रही है.

भाजपा ने पिछले चुनावों में जो वायदे किये थे, वे पूरे नहीं किये जिसके चलते भारी संख्या में लोगों का पलायन हुआ. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया ने कहा कि उत्तराखंड में भाजपा शासन में किसान भाइयों को सुविधा नहीं दी गयी. लोगों के साथ भेदभाव किया गया लेकिन कांग्रेस इस भेदभाव को हर हालत में समाप्त करेगी.

भाजपा की भेदभावपूर्ण नीतियों के चलते केन्द्र की कई महत्वपूर्ण योजनाओं को लाभ लोगों को नहीं मिला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी की कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं हैं. कांग्रेस जो कहती है, वह करती है. सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही ऐसी पार्टी है जो खोखले वादे नहीं करती है. ‘हम पूरी ईमानदारी, लगन तथा समर्पण से कार्य करते हैं. हम अपने वायदे पर अडिग रहते हैं.’

उन्होंने कहा कि केन्द्र में कांग्रेस नेतृत्व में संप्रग सरकार ने पूर्व सैनिकों को एक रैंक एक पेंशन योजना की मंजूरी दी. गांवों में नौजवानों को रोजगार के लिये महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार अधिनियम लागू किया गया. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सभी जिलों को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़ने, दो हजार गांवों में जैविक खाद परियोजनाओं को शुरू करने, सैनिकों के लिये कल्याणकारी कार्यक्रम चलाने तथा कई अन्य विकासकारी कार्यों के लिये कांग्रेस ने वायदा किया है. यह सब कार्य तभी होगा जब राज्य में पूरी लगन, समर्पण तथा ईमानदारी से काम करने वाली सरकार हो और ऐसी सरकार सिर्फ कांग्रेस की ही हो सकती है. उन्होंने अपील की कि उत्तराखंड में विकास की गंगा बहाने के लिये कांग्रेस के पक्ष में अपना मतदान करें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें