scorecardresearch
 

कांग्रेस नेताओं पर बरसे सलमान खुर्शीद ने लिखा खुला खत, जमकर निकाली भड़ास

सलमान खुर्शीद ने शनिवार को फिर से राहुल गांधी को अपना नेता बताते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहिए. कांग्रेस नेताओं ने खुर्शीद के पिछले बयान को खारिज कर दिया था जिसे लेकर पूर्व कानून मंत्री अपने ही पार्टी के नेताओं पर जमकर बरसे हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद (फाइल फोटो) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद (फाइल फोटो)

  • खुद को बताया गांधी परिवार का समर्थक
  • राहुल गांधी से फिर अध्यक्ष बनने की अपील

कांग्रेस पार्टी 2019 के चुनाव में मिली हार का आत्मचिंतन नहीं कर पाई थी क्योंकि उनके पार्टी अध्यक्ष ही पद छोड़कर चले गए थे. अपने इसी बयान के बाद अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व कानून मंत्री सलमान खुर्शीद ने शनिवार को फिर से राहुल गांधी को अपना नेता बताते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहिए. कांग्रेस नेताओं ने खुर्शीद के पिछले बयान को खारिज कर दिया था जिसे लेकर पूर्व कानून मंत्री अपने ही पार्टी के नेताओं पर जमकर बरसे हैं.

सलमान खुर्शीद ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए अपनी पार्टी के नेताओं को नसीहत देते हुए कहा, 'ऐसे लोग मुझे ज्ञान दे रहे हैं जो विश्वसनीयता और सियासी रणनीति के बारे में कुछ नहीं जानते, इसलिए मैं काफी हैरान हूं.' साथ ही उन्होंने कहा कि सभी को बता देता चाहता हूं कि मेरे लिए विश्वास और निष्ठा को निजी पसंद है. यह वक्त असल या काल्पनिक भय और मतभेद से निकलकर आगे बढ़ने का है.

हालांकि, खुर्शीद की टिप्पणी को पार्टी के प्रवक्ता पवन खेरा ने खारिज कर दिया और कहा कि लोगों को टिप्पणी करने से बचना चाहिए और इसके बजाय भाजपा सरकार की गुंडागर्दी को उजागर करने की दिशा में काम करना चाहिए.

भविष्य के लिए बोलना भी जरूरी

खुर्शीद ने आगे लिखा, 'मैं गांधी परिवार का समर्थन करता हूं क्योंकि निजी कृतज्ञता और भारतीय लोकतंत्र के बारे में मेरी समझ ऐसा करने को कहती है. रणनीतिक चुप्पी मुश्किल वक्त में समझदारी है लेकिन साझा भविष्य के लिए बोलना भी उतना ही जरूरी है.'

कांग्रेस के अपने साथियों को संबोधित करते हुए खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस कभी भी बीजेपी जैसी नहीं रही है और होना भी नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि जब हमारे प्रवक्ता बीजेपी को घेरने की ड्यूटी के बारे में बात करते हैं तो उन्हें याद रखना चाहिए कि यह तभी मुमकिन है जब हम इस विविधता की दुनिया में भयमुक्त होकर अपनी बात कह पाएंगे.   

आखिर में उन्होंने कहा कि हमारे विरोधी और मीडिया चाहे कुछ भी कहे लेकिन मेरा मानना है कि राहुल गांधी हमारे नेता हैं और उन्हें फिर से अध्यक्ष बनना चाहिए. सोनियाजी आगे भी हमें प्रेरित करती रहेंगी. उन्होंने कहा कि लिबिरल पार्टियां बीजेपी के चुनावी गणित के बारे में स्वकेंद्रित हो चुकी हैं. इससे कोई वैकल्पिक विचार आ ही नहीं पा रहा.   

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें