scorecardresearch
 

370 पर प्रधानमंत्री मोदी पहली बार बोले, जानें कैसी रही नेताओं की प्रतिक्रिया

जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिले स्पेशल स्टेटस का दर्जा खत्म किए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में नई व्यवस्था के तहत जम्मू-कश्मीर के लोगों को न सिर्फ संतुष्ट करने का वादा किया बल्कि विकास की बयार बहाने की बात भी कही.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में अनुच्छेद 370 पर पहली बार बोला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में अनुच्छेद 370 पर पहली बार बोला

जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिले स्पेशल स्टेटस का दर्जा खत्म किए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में नई व्यवस्था के तहत जम्मू-कश्मीर के लोगों को न सिर्फ संतुष्ट करने का वादा किया बल्कि विकास की बयार बहाने की बात भी कही. उन्होंने यहां तक कहा कि राज्य में जल्द चुनाव हों और मुख्यमंत्री यहीं का बने. प्रधानमंत्री मोदी के अनुच्छेद 370 पर दिए भाषण का जदयू ने स्वागत किया है और कहा कि लोगों तक पहुंच बनाने का यह बढ़िया प्रयास है. वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने घाटी के लोगों को साथ देने का आह्वान किया.

गृह मंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के बाद कहा कि प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों खासकर युवाओं से अनुरोध किया कि वो इस ऐतिहासिक यात्रा का हिस्सा बनें और महान काम के लिए एक साथ चलें. हर भारतीय चाहता है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में शांति हो और विकास के पथ पर चलें.

अमित शाह बोले-ऐतिहासिक यात्रा के भागीदार बनें युवा

प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के बाद जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के नेता केसी त्यागी ने उनके भाषण की तारीफ करते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर के स्थानीय लोगों के बीच डर को खत्म करने की अच्छी कोशिश की गई है और वहां के लोगों को जल्द ही उनके अपने प्रतिनिधि चुनने की बात कहना अच्छा है. हम कश्मीर पर प्रधानमंत्री के कदम का समर्थन करते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें