scorecardresearch
 

सोनभद्र मामले की जांच करने जाएगा राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का प्रतिनिधिमंडल

राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का एक प्रतिनिधिमंडल उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जाएगा. प्रतिनिधिमंडल आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय की अगुवाई में जाएगा. आयोग जमीन विवाद के मामले की जांच करेगा. बता दें कि बुधवार को उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में जमीनी विवाद में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी.

सोनभद्र में हिंसा सोनभद्र में हिंसा

राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का एक प्रतिनिधिमंडल उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जाएगा. प्रतिनिधिमंडल आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय की अगुवाई में जाएगा. आयोग जमीन विवाद के मामले की जांच करेगा. बता दें कि बुधवार को उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में जमीनी विवाद में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी.

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में बुधवार को जमीनी विवाद में 10 लोगों की हत्या कर दी गई. इस मामले में अभी तक 26 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. डीजीपी ओम प्रकाश सिंह का कहना है कि कॉम्बिंग ऑपरेशन चल रहा है, जिसमें ग्राम प्रधान के भतीजे समेत 26 लोगों को अरेस्ट किया गया है. सीनियर अधिकारी कैंप कर रहे हैं. इस मामले में जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

दरअसल, बुधवार को सोनभद्र के घोरावल थाना क्षेत्र के मूर्तिया गांव में जमीन कब्जाने को लेकर फायरिंग हुई थी. बताया जा रहा है कि जिस 100 एकड़ जमीन के लिए ये खूनी तांडव हुआ, उसे ग्राम प्रधान यज्ञ दत्त ने एक आईएएस अधिकारी से खरीदी थी, लेकिन गांव वाले इस जमीन पर कब्जा छोड़ने को तैयार नहीं थे. उनका कहना था कि वो लंबे समय से इस पर काम कर रहे हैं.

आरोप है कि बुधवार दोपहर को ग्राम प्रधान यज्ञ दत्त के लोग 15 से 20 ट्रैक्टर में भरकर आए और उन्होंने गांव वालों पर हमला कर दिया. उनपर बंदूक तान दी और ताबड़तोड़ गोलियों से भून डाला. इस खूनी संघर्ष में 10 लोगों की जान चली गई. कई घायल हैं. घायल नागेंद्र ने बताया कि जमीन कब्जा करने ग्राम प्रधान यज्ञ दत्त अपने लोग के साथ आया था और गोली चलाने लगा. वे सभी जमीन कब्जा करने 30 गाड़ियों में भरकर आए थे. सभी हथियार से लैस थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें