scorecardresearch
 

उमा ने कहा- 3 साल में PM ने सिर्फ दो बार डांटा, ये था कारण

जल संसाधन मंत्रालय से हटाए जाने के कुछ दिन बाद केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि उनको हटाने की वजह प्रधानमंत्री की नामामि गंगे परियोजना को लागू कराने में विफल रहना नहीं है.

X
उमा भारती उमा भारती

जल संसाधन मंत्रालय से हटाए जाने के कुछ दिन बाद केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि उनको हटाने की वजह प्रधानमंत्री की नामामि गंगे परियोजना को लागू कराने में विफल रहना नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने उन अटकलों को खारिज किया कि प्रधानमंत्री मोदी उनके प्रदर्शन से खुश नहीं थे. इसी कारण से उन्हें कम महत्व वाले पेय जल और स्वच्छता मंत्रालय में शिफ्ट किया गया.

नामामि गंगे में नहीं हुई विफल

उन्होंने संवाददाताओं को बताया, 'अगर हम विफल हुए तो विभाग कैसे मिला. इसका मतलब है कि स्वच्छ गंगा के मोर्चे पर हम विफल नहीं रहे. उन्होंने कहा कि जमीनी स्तर पर जो भी काम करने की जरूरत थी वो किया गया.'

पीएम मोदी ने सिर्फ मोटा होने के लिए टोका

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने तीन सालों में उन्हें महज दो बार टोका है. वो भी मोटा होने के लिए, किसी और वजह से नहीं से कभी नहीं टोका. उन्होंने कहा, 'नीतिन गडकरी ने खुद कहा था कि गंगा के मुद्दे पर वो मुझसे जुड़े हुए थे.'

स्वच्छता बनाए रखने के लिए लोगों को करेंगी जागरुक

उन्होंने कहा कि उनके और गंगा के बीच कोई नहीं आ सकता. इसके साथ ही घोषणा की कि वह पेयजल और स्वच्छता मंत्री के तौर पर नदी किनारे गांवों में स्वच्छता बनाए रखने के लिए लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से यात्रा करेंगी. एक सवाल के जवाब में उन्होंने स्पष्ट किया कि इस यात्रा को अवज्ञा के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए क्योंकि इसकी योजना एक साल पहले बन गई थी.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें