scorecardresearch
 

नए राज्यपालों की लिस्ट तैयार, मोदी करेंगे अंतिम फैसला

केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार को एक महीना हो गया है और इस बीच कई राज्यों के राज्यपालों को बदलने को लेकर विवाद भी जारी है. इस विवाद के बीच ही मोदी सरकार ने 6 लोगों के नाम तय कर लिए हैं, जिन्हें अलग-अलग राज्यों का राज्यपाल बनाया जाएगा.

कल्‍याण सिंह कल्‍याण सिंह

केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार को एक महीना हो गया है और इस बीच कई राज्यों के राज्यपालों को बदलने को लेकर विवाद भी जारी है. इस विवाद के बीच ही मोदी सरकार ने 6 लोगों के नाम तय कर लिए हैं, जिन्हें अलग-अलग राज्यों का राज्यपाल बनाया जाएगा. इस लिस्ट में पूर्व केंद्रीय मंत्री राम नाइक, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, दिल्ली बीजेपी नेता वीके मल्होत्रा, मध्य प्रदेश बीजेपी नेता कैलाश जोशी, केरल बीजेपी के नेता ओ. राजगोपाल और पंजाब बीजेपी नेता विशंभर दास टंडन का नाम है.

सूत्रों के अनुसार खबर है कि दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेता वीके मल्होत्रा को अमेरिका में राजनयिक बनाने की बात भी कही गई थी, लेकिन उन्होंने अपनी उम्र का हवाला देकर इससे इनकार कर दिया है. गौरतलब है कि मल्होत्रा की उम्र 82 साल है. सूत्रों के अनुसार उन्हें महाराष्ट्र का राज्यपाल बनाने के बारे में भी बात हुई, लेकिन उन्होंने इससे भी इनकार कर दिया. अब माना जा रहा है कि उन्हें उत्तर भारत के ही किसी राज्य का राज्यपाल उन्‍हें बनाया जाएगा.

इस बीच कांग्रेस शासन में राज्यपाल बनाए गए तीन राज्यपालों ने अपने पद से इस्तीफा दिया है. इनमें उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल बी.एल जोशी, छत्तीसगढ़ के पूर्व राज्यपाल शेखर दत्त और नागालैंड के पूर्व राज्यपाल अश्व‍िनी कुमार अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं.

गौरतलब है कि राज्यपालों को हटाए जाने को लेकर मोदी सरकार पहले से ही विवादों में है. महाराष्ट्र के राज्यपाल के. शंकरनारायणन ने तो मोदी सरकार पर इल्जाम लगाया है कि केंद्र सरकार अनौपचारिक रूप से उन पर पद छोड़ने के लिए दबाव बना रही है. उन्होंने स्वीकार किया कि गृह सचिव अनिल गोस्वामी ने उन्हें दो बार फोन किया और इस्तीफा देने को कहा.

इससे पहले खबरें आई थीं कि मोदी सरकार ने यूपीए के समय नियुक्त किए गए सात राज्यपालों को अनौपचारिक रूप से पद छोड़ने को कहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें