scorecardresearch
 

INDIAN RAILWAYS यात्रियों के मजे, स्टेशन पर FREE मोबाइल और वीडियो कॉलिंग

Indian Railways IRCTC Latest News: रेल मंत्रालय ने मेक इन इंडिया मुहिम के तहत अपनी तरह का पहला ह्यूमन इंटरेक्टिव इंटरफेस सिस्टम लगाया है. यह डिजिटल कियोस्क और डिजिटल बिल बोर्ड का अनूठा गठजोड़ है.

Indian Railways IRCTC Latest News Indian Railways IRCTC Latest News

Indian Railways IRCTC Latest News: रेल यात्रा का अनुभव बेहतर करने के लिए भारतीय रेल लगातार नई सेवाएं और सुविधाएं शुरू कर रहा है. इसी क्रम में रेलवे ने एक अनूठे ह्यूमन इंटरेक्टिव इंटरफेस सिस्टम के जरिए फ्री मोबाइल और वाईफाई कॉलिंग और कई दूसरी सुविधाओं की शुरुआत की है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करके इस सेवा की शुरुआत की जानकारी दी है.

रेल मंत्री के मुताबिक, इस सेवा की शुरुआत विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशन पर की गई है. इसके जरिए कई अनूठी सेवाएं यात्रियों को मिल रही हैं. रेल मंत्री ने इन सुविधाओं की जानकारी देने के लिए एक वीडियो भी शेयर किया है. वीडियो में दी गई जानकारी के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने मेक इन इंडिया मुहिम के तहत विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशन पर अपनी तरह का पहला ह्यूमन इंटरेक्टिव इंटरफेस सिस्टम लगाया है. यह डिजिटल कियोस्क और डिजिटल बिल बोर्ड का अनूठा गठजोड़ है.

एक मशीन, कई सुविधाएं

इस एक मशीन से कई काम किए जा सकते हैं. इस डिजिटल कियोस्क की मदद से रेल यात्री फ्री मोबाइल और वीडियो कॉलिंग कर सकते हैं. मोबाइल और लैपटॉप के साथ सफर करने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए इसमें फास्ट चार्जिंग पोर्ट्स भी लगे हैं. इसके अलावा, 24 घंटे निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे भी इसी कियोस्क में लगे हैं.

वीडियो में दी गई जानकारी के मुताबिक, डिजिटल कियोस्क में दी गई इंटरेक्टिव स्क्रीन पर यात्री मौसम और ट्रेनों से जुड़ी जानकारी देख सकते हैं. इसके अलावा, गूगल मैप, शहर का नक्शा और स्थानीय जगहों की जानकारी भी पाई जा सकती है. कहना गलत न होगा कि अगर रेल यात्री इस सेवा के प्रति दिलचस्पी दिखाते हैं तो जल्द ही दूसरे स्टेशनों पर भी यह सिस्टम शुरू किया जा सकता है.

एकीकृत हुआ 139 हेल्पलाइन

हाल ही में नए साल के मौके पर रेल मंत्री ने एक और बड़ा ऐलान किया था. भारतीय रेल ने हेल्पलाइन नंबर 139 को एकीकृत कर दिया है. यानी अब विभिन्न सेवाओं के लिए अब सिर्फ इसी नंबर पर कॉल किया जा सकेगा. रेल मंत्री की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, यह नंबर इंटरएक्टिव वॉइस रिस्पांस पर आधारित है. अब यात्रियों को कोई मदद मांगनी हो तो उन्हें अलग अलग नंबरों के स्थान पर सिर्फ एक हेल्पलाइन नंबर 139 को याद रखना होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें