scorecardresearch
 

कश्मीर पर अमित शाह ने की अहम बैठक, गृह सचिव-NSA डोभाल भी रहे मौजूद

जम्मू-कश्मीर में जारी सरगर्मी के बीच संसद भवन ऑफिस में गृह मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक हुई. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में एनएसए अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गाबा भी मौजूद रहे.

गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो) गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)

  • संसद भवन ऑफिस में केंद्रीय गृह सचिव अमित शाह की बैठक
  • इस बैठक में NSA अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गाबा भी मौजूद
  • कल सुबह 9:30 बजे पीएम आवास पर होगी कैबिनेट मीटिंग

जम्मू-कश्मीर में जारी सरगर्मी के बीच संसद भवन ऑफिस में गृह मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक हुई. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गाबा भी मौजूद रहे.

दिल्ली में पीएम आवास पर कल यानी सोमवार को सुबह 9.30 बजे कैबिनेट की बैठक होगी. सूत्रों के हवाले से खबर है कि केंद्र सरकार कैबिनेट की इस बैठक में बड़ा फैसला ले सकती है. मोदी सरकार ने कैबिनेट की बैठक ऐसे वक्त में बुलाई है जब जम्मू-कश्मीर में अलर्ट को लेकर देश भर में सरगर्मी तेज हैं.

कश्मीर में हालात तनावग्रस्त हैं. सुरक्षा बलों को अमरनाथ यात्रा के रूट पर सर्च ऑपरेशन के दौरान स्नाइपर राइफल मिली, जिसके बाद यात्रा रोकने का फैसला किया गया था. आतंकी खतरे को भांपते हुए तुरंत ये एडवाइजरी की गई थी कि अमरनाथ यात्री अमरनाथ यात्रा मार्ग में जहां कहीं भी हैं वो अपने-अपने घरों की तरफ लौटने की कोशिश करें, क्योंकि उनपर हमले की बड़ी साजिश रची जा रही है.

वहीं दूसरी तरफ, जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने शनिवार को पाकिस्तानी बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) की केरन सेक्टर में घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम कर दिया. भारतीय सेना के मुताबिक 5 से 7 पाकिस्तानी सेना के बैट कमांडो और आतंकवादियों को मार दिया गया है. उनके शव एलओसी पर पड़े हैं क्योंकि भारी गोलीबारी के कारण अभी तक उन्हें हासिल नहीं किया जा सका है. हालांकि तस्वीरों में चार शव नजर आ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: घुसपैठियों को ढेर कर भारतीय सेना ने पाकिस्तान से कहा- आकर शव ले जाओ

भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर मारे गए आतंकियों के शव ले जाने का प्रस्ताव भेजा है. भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को शवों को ले जाने के लिए सफेद झंडे के साथ आने का प्रस्ताव दिया है. हालांकि पाकिस्तान की तरफ से अभी तक कोई जवाब नहीं आया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें