scorecardresearch
 

बेंगलुरु: हिंदू देवताओं के फोटो वाले पटाखों पर बैन की मांग

हिंदू जनजागृति समिति ने हिंदू देवी-देवताओं के फोटो वाले पटाखों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है. समिति का कहना है कि कम से कम 10 प्रकार के पटाखों पर हिंदू देवताओं की तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया है.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • हिंदू देवी-देवताओं के फोटो वाले पटाखों पर लगे बैन
  • हिंदू जनजागृति समिति ने बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर से की मांग

हिंदू जनजागृति समिति ने बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर से हिंदू देवी-देवताओं के फोटो वाले पटाखों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है. समिति का कहना है कि कम से कम 10 प्रकार के पटाखों पर हिंदू देवताओं की तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया है. पटाखों के फोड़े जाने के बाद ये तस्वीरें अक्सर नाली में पाए जाते हैं. ऐसे में हिंदू देवताओं का अपमान होता है. इसलिए इन पर प्रतिबंध लगाया जाए.

बता दें कि बीते साल भी कई हिंदुत्ववादी संगठनों ने लोगों से उन पटाखों का उपयोग नहीं करने की मांग की थी जिनमें हिंदू देवी-देवताओं के चित्र हैं. विश्व हिंदू परिषद ने कहा कि निर्माता अपने उत्पादों को बेचने के लिए भगवान का उपयोग कर रहे हैं लेकिन बाद में पटाखे के डिब्बे सड़कों पर छोड़ दिए जाते हैं. एक तरफ हम देवी लक्ष्मी से प्रार्थना करते हैं और दूसरी तरफ हम उनके चित्र वाले पटाखे फोड़ते हैं.

देशभर में दिवाली के मद्देनजर पटाखों की बिक्री बढ़ जाती है. लेकिन हिंदुत्ववादी संगठन ने ऐसी मांग कर लोगों को एक कड़ा संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें