scorecardresearch
 

ट्रंप का दौरा आधिकारिक नहीं? कांग्रेस ने पूछा- किसके बुलावे पर अहमदाबाद आ रहे US प्रेसिडेंट

अहमदाबाद में आयोजित होने वाले ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम के आयोजकों पर विवाद हो गया है. कांग्रेस पार्टी ने विदेश मंत्रालय के बयान पर निशाना साधा है और पूछा है कि अगर ये आधिकारिक कार्यक्रम नहीं है तो इतना खर्च क्यों हो रहा है?

अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे पर विवाद (फोटो: AP) अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे पर विवाद (फोटो: AP)

  • नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम पर विवाद
  • कांग्रेस ने आयोजकों पर पूछे सवाल
  • निजी कार्यक्रम में करोड़ों क्यों खर्च कर रही सरकार?

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे से पहले भारत में जोर शोर से तैयारियां जारी हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति खुद यहां पर होने वाले स्वागत कार्यक्रम को लेकर उत्साहित हैं और एक करोड़ लोगों के आने का दावा कर रहे हैं. लेकिन इन दावों पर कांग्रेस पार्टी ने सवाल खड़े किए हैं और कहा है कि आखिर किसके न्योते पर अमेरिकी राष्ट्रपति भारत आ रहे हैं. रणदीप सुरजेवाला ने विदेश मंत्रालय के उस बयान का हवाला दिया है जिसमें अहमदाबाद का कार्यक्रम किसी निजी संस्था के द्वारा आयोजित किए जाने की बात कही गई.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि नागरिक अभिनंदन समिति कौन है, इसके सदस्य कौन हैं? अगर डोनाल्ड ट्रंप को एक प्राइवेट संगठन द्वारा बुलाया जा रहा है तो गुजरात सरकार इतने करोड़ रुपये क्यों खर्च कर रही है?

कांग्रेस प्रवक्ता ने सवाल पूछा कि मोदी सरकार को जवाब देना चाहिए कि अमेरिकी राष्ट्रपति को अहमदाबाद के इवेंट के लिए किसने न्योता दिया. क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कहते हैं कि उन्हें नरेंद्र मोदी ने बुलाया है, लेकिन विदेश मंत्रालय कहता है कि ये कोई आधिकारिक कार्यक्रम नहीं है.

कांग्रेस नेता ने अपने ट्वीट में दावा किया कि गुजरात सरकार तीन घंटे के इवेंट के लिए 120 करोड़ रुपये खर्च कर रही है. विदेश नीति एक गंभीर विषय है, ये कोई इवेंट मैनेजमेंट का हिस्सा नहीं है.

ट्रंप ने किया एक करोड़ लोग जुटने का दावा, मनोज झा बोले- क्या भाई साहब! बच्चे की जान लोगे क्या?

कौन कर रहा है नमस्ते ट्रंप का आयोजन?

गौरतलब है कि अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले इस आयोजन में एक लाख से अधिक लोग शामिल होंगे.

इसे पढ़ें: अहमदाबाद से दिल्ली वाया आगरा, भारत में क्या-क्या करेंगे ट्रंप-मेलानिया, पढ़ें शेड्यूल

गुरुवार को विदेश मंत्रालय की साप्ताहिक प्रेस वार्ता में रवीश कुमार ने कहा था कि अहमदाबाद के ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में किसे बुलाना है, इसका फैसला विदेश मंत्रालय नहीं ले रहा है. रवीश कुमार के मुताबिक, इस कार्यक्रम का आयोजन ‘डोनाल्ड ट्रंप अभिनंदन समिति’ के द्वारा किया जा रहा है, ऐसे में कार्यक्रम में किसे बुलाना है या नहीं, ये उनका निजी फैसला है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें