scorecardresearch
 

गोवा पहुंचे पर्रिकर की सेहत स्थिर, AIIMS की देखरेख में जारी रहेगा इलाज

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने 12 अक्टूबर को दिल्ली में एम्स के एक निजी वार्ड में राज्य के कैबिनेट मंत्रियों से मुलाकात की और प्रशासनिक कामकाज का जायजा लिया था. सीएम से मिलने तीन कैबिनेट मंत्री और 2 सांसद दिल्ली आए थे. सीएम मनोहर पर्रिकर ने गोवा बीजेपी के नेताओं से भी मुलाकात कर राज्य के कई मुद्दों पर चर्चा की थी.

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (फोटो-इंडिया टुडे आर्काइव) गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (फोटो-इंडिया टुडे आर्काइव)

पिछले करीब एक महीने से दिल्ली के एम्स में इलाज करा रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर रविवार को एयर एंबुलेंस के जरिए गोवा पहुंचे. पर्रिकर के निजी सचिव रुपेश कामत ने कहा कि उनकी सेहत स्थिर है. दिल्ली के एम्स की देखरेख में उनका इलाज जारी रहेगा.

इससे पहले आज सुबह उनकी तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें आईसीयू में शिफ्ट किया गया था. इसके बाद पर्रिकर को एयर एंबुलेंस के जरिए गोवा ले जाया गया.

मनोहर पर्रिकर करीब एक महीने से दिल्ली के एम्स में भर्ती थे. अमेरिका में इलाज के बाद उन्हें बीते 15 सितंबर को यहां लाया गया था. आपको बता दें कि पर्रिकर 6 सितंबर को ही अमेरिका से इलाज कराकर भारत लौटे थे. वहां करीब एक हफ्ते तक उनका इलाज चला था. इससे पहले भी वह इलाज के लिए अमेरिका गए थे, जहां वह करीब 3 महीने तक थे. उनकी गैर-मौजूदगी में गोवा की सियासत काफी गरमा गई है.

शुक्रवार को पर्रिकर ने एम्स में ही अपने कैबिनेट सहयोगियों के साथ मंत्रालय के बंटवारे और सरकार के कामकाज को लेकर मीटिंग की थी.जबकि दूसरी तरफ कांग्रेस गोवा विधानसभा सत्र बुलाने की मांग कर रही है.

शनिवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि वह मनोहर पर्रिकर की सेहत की कामना करते हैं. लेकिन बीमारी में उनके ऊपर राजकाज का बोझ नहीं डाला जाना चाहिए, इससे काम भी प्रभावित हो रहा है. पार्टी ने सत्र बुलाकर देखा जाए कि किसके पास बहुमत है. वहीं, बताया ये भी जा रहा है कि पर्रिकर की तबीयत को देखते हुए उनका गोवा में ही इलाज जारी रखा जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें