scorecardresearch
 

अब कहीं भी पहुंचिए फटाफट, 1 बुलेट ट्रेन और 9 सेमी बुलेट ट्रेन

रेल मंत्री सदानंद गौड़ा ने आज संसद में 2014-15 का रेल बजट प्रस्तुत करते हुए उच्‍च रफ्तार परियोजना के लिए आरवीएनएल/ एचएसआरसी (उच्‍च रफ्तार रेल गलियारा) के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की. गौड़ा ने कहा कि हमारे महान नेता अटल बिहारी वाजपेयी जी की दूरदर्शिता थी, जिन्होंने भारत में स्वर्णिम चतुर्भुज रोड नेटवर्क दिया. आज हम पीएम नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के प्रमुख महानगरों और विकास केंद्रों को जोड़ने के लिए उच्‍च गति वाले रेल के हीरक चतुर्भुज नेटवर्क की महत्वकांक्षी योजना आरंभ कर रहे हैं.

रेल मंत्री सदानंद गौड़ा ने आज संसद में 2014-15 का रेल बजट प्रस्तुत करते हुए उच्‍च रफ्तार परियोजना के लिए आरवीएनएल/ एचएसआरसी (उच्‍च रफ्तार रेल गलियारा) के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की. गौड़ा ने कहा कि हमारे महान नेता अटल बिहारी वाजपेयी जी की दूरदर्शिता थी, जिन्होंने भारत में स्वर्णिम चतुर्भुज रोड नेटवर्क दिया. आज हम पीएम नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के प्रमुख महानगरों और विकास केंद्रों को जोड़ने के लिए उच्‍च गति वाले रेल के हीरक चतुर्भुज नेटवर्क की महत्वकांक्षी योजना आरंभ कर रहे हैं.

यहां दौड़ेगी बुलेट ट्रेन
1. मुंबई-अहमदाबाद पर पहले से ही चिन्हित किए हुए खंड पर बुलेट ट्रेन चलाई जाएगी.

ये हैं सेमी बुलेट ट्रेन
गौड़ा ने कहा कि वर्तमान नेटवर्क को अपग्रेड करके मौजूदा रेलगाड़ियों की गति बढ़ाई जाएगी. इसलिए, चुनिंदा सेक्टरों में 160-200 किलोमीटर प्रति घंटा तक रेलगाड़ियों की गति बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा ताकि प्रमुख नगरों के बीच यात्रा समय में काफी कमी आ सके. चुने गए क्षेत्र ये हैं.

1. दिल्ली-आगरा
2. दिल्ली-चंडीगढ़
3. दिल्ली-कानपुर
4. नागपुर-बिलासपुर
5. मैसूर-बेंगलुरु-चेन्‍नई
6. मुंबई-गोवा
7.
मुंबई-अहमदाबाद
8. चेन्‍नई-हैदराबाद
9. नागपुर-सिकंदराबाद

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें