scorecardresearch
 

बांग्लादेश से नकली नोटों की तस्करी का मुद्दा DG स्तर पर उठाएगी BSF

इस मामले पर बीएसएफ के खुफिया विंग यानी 'जी ब्रांच' ने एक रिपोर्ट तैयार की है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि नई करेंसी के नकली नोट अब बांग्लादेश में छपने लगे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक नए नोटों के बाजार में आने के 100 दिनों के भीतर ही बांग्लादेश में सक्रिय तस्करों ने जाली नोट तैयार कर लिये हैं. इनके नमूनों की जांच के लिए जाली नोटों को तस्करों के जरिये भारत भेजा जा रहा है.

X
बांग्लादेश के रास्ते नकली नोटों की तस्करी करवा रही आईएसआई बांग्लादेश के रास्ते नकली नोटों की तस्करी करवा रही आईएसआई

नई करेंसी के नकली नोटों की सप्लाई अब बांग्लादेश के रास्ते से होने लगी है. इसे लेकर मोदी सरकार हरकत में आ गई है. बीएसएफ और बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड्स (बीजीबी) के बीच अगली डीजी स्तर की बातचीत में ये मुद्दा उठाया जाएगा. इस बैठक के लिए 10 बीएसएफ अधिकारियों की टीम बांग्लादेश जा रही है.

BSF ने तैयार की रिपोर्ट
इस मामले पर बीएसएफ के खुफिया विंग यानी 'जी ब्रांच' ने एक रिपोर्ट तैयार की है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि नई करेंसी के नकली नोट अब बांग्लादेश में छपने लगे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक नए नोटों के बाजार में आने के 100 दिनों के भीतर ही बांग्लादेश में सक्रिय तस्करों ने जाली नोट तैयार कर लिये हैं. इनके नमूनों की जांच के लिए जाली नोटों को तस्करों के जरिये भारत भेजा जा रहा है. सूत्रों की मानें नकली नोटों का गोरखधंधा बांग्लादेश के तस्कर आईएसआई की शह पर चला रहे हैं.

पश्चिम बंगाल में सामने आये मामले
15 फरवरी को बीएसएफ और एनआईए की टीम ने पश्चिम बंगाल के मालदा से 2000 रुपये के 100 नकली नोट बरामद किये थे. इससे पहले 8 फरवरी को भी मालदा से ही नकली नोटों के संदिग्ध तस्कर अजीजुर्रहमान को गिरफ्तार किया गया था.


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें