scorecardresearch
 

कोलकाता: एलपीजी ग्राहकों को 16 रूपए की राहत

ईंधन के दाम में 50 रूपए की वृद्धि के केंद्र के फैसले से परेशान आम आदमी को राहत प्रदान करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एलपीजी पर प्रति सिलेंडर 16 रूपए का उपकर तत्काल प्रभाव से वापस लेने का निर्णय लिया.

ईंधन के दाम में 50 रूपए की वृद्धि के केंद्र के फैसले से परेशान आम आदमी को राहत प्रदान करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एलपीजी पर प्रति सिलेंडर 16 रूपए का उपकर तत्काल प्रभाव से वापस लेने का निर्णय लिया.

केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार की दूसरी बड़ी सहयोगी पार्टी तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख बनर्जी ने कहा कि केंद्र सरकार के इस कदम से उन्हें बहुत पीड़ा हुई है और उन्होंने आम आदमी के हित में उससे एलपीजी का दाम घटाने का आह्वान किया है.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रति सिलेंडर 16 रूपए उपकर नहीं वसूलेगी जिससे राज्य के रसोई गैस ग्राहकों पर 50 रूपए के बजाय 34 रूपए का बोझ पड़ेगा.

मुख्यमंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि डीजल, एलपीजी और किरोसिन तेल के दाम बढ़ाने के संप्रग सरकार के आधी रात के फैसले के बाद मैंने अपने वित्त मंत्री अमित मित्रा से संपर्क किया और प्रति एलपीजी सिलेंडर पर राज्य सरकार द्वारा लगाए जाने वाले उपकर को आम आदमी को राहत देने के लिए वापस लेने का निर्णय लिया गया.

बनर्जी ने कहा कि इससे राज्य के राजकोष को 75 करोड़ रूपए का घाटा होगा जिसकी भरपाई अन्य स्रोतों से की जाएगी. उपकर लेने संबंधी अधिसूचना सोमवार को जारी की जाएगी.

उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा लिए गए ऐसे फैसले से मुझे बहुत पीड़ा हुई है. हम केंद्र से एलपीजी के दाम घटाने की अपील करना चाहेंगे. बनर्जी ने यह कहते हुए राज्य की पूर्ववर्ती वाम मोर्चा सरकार की भी आलोचना की कि उसने एलपीजी पर उपकर हटाने की जहमत नहीं उठाई. मुख्यमंत्री ने कहा कि वाम मोर्चा बस बड़ी बड़ी बातें करता है लेकिन कुछ खास नहीं करता है. हमने दिखा दिया कि हम ऐसा कर सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें