scorecardresearch
 

SGPC विवाद: प्रकाश सिंह बादल ने कांग्रेस की तुलना मुगलों से की

हरियाणा के गुरुद्वारों के लिए अलग से समिति का गठन करने की राज्य सरकार की घोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने जहां फैसले को 'असंवैधानिक' करार दिया, वहीं कांग्रेस पर सिख शक्ति को कमजोर करने के लिए 'अत्याचारी मुगलों' के जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाया.

प्रकाश सिंह बादल (फाइल फोटो) प्रकाश सिंह बादल (फाइल फोटो)

हरियाणा के गुरुद्वारों के लिए अलग से समिति का गठन करने की राज्य सरकार की घोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने जहां फैसले को 'असंवैधानिक' करार दिया, वहीं कांग्रेस पर सिख शक्ति को कमजोर करने के लिए 'अत्याचारी मुगलों' के जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाया.

अलग शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) गठित करने की हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा रविवार को की गई घोषणा को 'घटिया कदम' बताते हुए बादल ने कहा कि यह फैसला दुर्भाग्यपूर्ण है.

बादल ने चंडीगढ़ से 80 किलोमीटर दूर पटियाला में मीडिया के साथ बातचीत करते हुए कहा, 'यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सिखों के धार्मिक मामले में कांग्रेस बिना जरूरत दखल दे रही है. सिखों की ताकत कमजोर करने के लिए कांग्रेस पार्टी निरंकुश मुगल शासकों की राह का अनुसरण कर रही है. ऑपरेशन ब्लूस्टार और 1984 के सिख विरोधी दंगे के बाद कांग्रेस का सिख समुदाय पर यह तीसरा बड़ा हमला है.'

हरियाणा की मुख्य विपक्षी पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल ने भी हुड्डा सरकार की पृथक एसजीपीसी गठित किए जाने की घोषणा की निंदा की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें