scorecardresearch
 

Mekapati Goutham Reddy Death: आंध्र प्रदेश के मंत्री का 50 साल की उम्र में हार्ट अटैक से निधन

आंध्र प्रदेश के मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी (Mekapati Goutham Reddy Death) का 50 साल की उम्र में हार्ट अटैक से निधन हो गया है. वह रविवार को ही एक हफ्ते बाद दुबई से लौटे थे.

X
मेकापति गौतम रेड्डी का निधन
मेकापति गौतम रेड्डी का निधन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मेकापति गौतम रेड्डी 2014 में पहली बार विधायक बने थे
  • YSRCP सरकार में रेड्डी आईटी मिनिस्टर थे

Mekapati Goutham Reddy Death: आंध्र प्रदेश से चौंकाने वाली खबर आई है. वहां मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी का आकस्मिक निधन हो गया है. मेकापति गौतम रेड्डी सिर्फ 50 साल के थे, ऐसे में उनकी हार्ट अटैक से हुई मौत ने सबको चौंका दिया है.

सोमवार को सुबह हैदराबाद में रेड्डी का निधन हुआ. वह आंध्र प्रदेश सरकार में अभी इंडस्ट्रीज और आईटी मिनिस्टर थे.

गौतम रविवार को ही दुबई से हैदराबाद वापस आए थे. वहां वह दुबई एक्सपो 2022 में शामिल हुए थे. वहां वह सरकारी डेलिगेशन का नेतृत्व कर रहे थे. तबीयत बिगड़ने पर रेड्डी को अपोलो हॉस्पिटल लेकर जाया गया था, हॉस्पिटल के मुताबिक, वहां पहुंचने से पहले ही रेड्डी की मौत हो चुकी थी.

यह भी पढ़ें - Heart Attack In Winter: सर्दियों में बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा, इन 4 आदतों से खुद को बचाएं

2014 में विधायक बने थे रेड्डी

मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी पूर्व सांसद और उद्योगपति राजमोहन रेड्डी के बेटे थे. उनका जन्म 31 दिसंबर 1971 को हुआ था. उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की थी, फिर यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर से अपनी मास्टर्स की पढ़ाई की.

गौतम रेड्डी पहली बार साल 2014 में विधायक बने थे. फिर 2019 के चुनाव में भी वह नेल्लोर सीट से विजयी हुए. फिर YSRCP सरकार में उनको आईटी मिनिस्टर बनाया गया था.

गौतम रेड्डी अपने स्वभाव की वजह से जाने जाते थे. कहा जाता है कि विपक्षी दल चाहे कितने भी आक्रमकता दिखाते, लेकिन रेड्डी सौम्य तरीके से ही उनका जवाब देते थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें