scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: नेताओं के बीच 'कुर्सी' ने पैदा की कसक, किसान के नाम पर मेल-मिलाप

शिवसेना से सियासी खींचतान के बीच सोमवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस दिल्ली पहुंचे और उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की. बताया गया कि फडणवीस ने किसानों के मसले पर शाह से यह बैठक की. इसके बाद बुधवार को शिवसेना और बीजेपी नेताओं के बैठक हुई और प्रमुख एजेंडा किसान बताया गया. इस बैठक में भी फडणवीस मौजूद रहे.

महाराष्ट्र में 15 दिनों के अंदर 6 किसानों ने की आत्महत्या महाराष्ट्र में 15 दिनों के अंदर 6 किसानों ने की आत्महत्या

महाराष्ट्र में सरकार गठन की कशमकश के बीच किसान चर्चा के केंद्र में आ गया है. कुर्सी की जंग के बीच विरोधी नेता एक-दूसरे से मुलाकात कर रहे हैं. दिलचस्प बात यह है कि इन मुलाकातों के पीछे किसानों की दुहाई दी जा रही है और सत्ता के इस खेल के बीच हाल ही में 6 किसान आत्महत्या कर चुके हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे 24 अक्टूबर को आ गए थे, जिसमें किसी भी एक दल को बहुमत नहीं मिला था, लेकिन बीजेपी और शिवसेना के पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त सीटें होने के बावजूद महाराष्ट्र को नई सरकार नहीं मिल पाई है. शिवसेना और बीजेपी अपनी-अपनी शर्तों पर अड़ी हुई हैं. शिवसेना के साथ जारी इस सियासी खींचतान के बीच सोमवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस दिल्ली पहुंचे और उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की. बताया गया कि फडणवीस ने किसानों के मसले पर शाह से यह बैठक की.

शरद पवार ने किसानों पर की प्रेस कॉन्फ्रेंस

बुधवार को जब एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की तो उन्होंने भी किसानों का ही मुद्दा उठाया. महाराष्ट्र सरकार को लेकर उन्होंने अपनी तरफ से कुछ नहीं कहा. हालांकि, जब उनसे सरकार गठन पर सवाल किए गए तो पवार ने तफ्सील से जवाब भी दिए.

दूसरी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने दिल्ली में महाराष्ट्र से आने वाले बीजेपी नेता नितिन गडकरी से मुलाकात की. नितिन गडकरी मोदी कैबिनेट में मंत्री हैं और सड़क, परिवहन और एमएसएमई मंत्रालयों की जिम्मेदारी है.

किसानों पर बीजेपी-शिवसेना नेताओं की बैठक

तमाम राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच बुधवार दोपहर बीजेपी और शिवसेना के नेता भी आपस में बैठे. इस बैठक में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद रहे. मीटिंग के बाद शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने बताया कि किसानों की समस्या को लेकर चर्चा हुई और यह बात हुई कि 10000 करोड़ का राहत पैकेज काफी नहीं है.

bjp-shivsena-meet-farmer_110619033953.jpgकिसानों के मुद्दे पर बीजेपी-शिवसेना की बैठक

वहीं, बीजेपी नेता सुधीर मुंगंटीवार ने बैठक के बाद बताया कि आज की चर्चा सिर्फ किसानों से जुड़ी थी, सरकार गठन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है. हालांकि, उन्होंने यह जरूर कहा कि गुड न्यूज बहुत जल्द कभी भी आ सकती है.

बहरहाल, ये गुड न्यूज कब आएगी इसे लेकर निश्चित तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता है, लेकिन महाराष्ट्र में सत्ता पाने की जद्दोजहद के बीच 6 किसानों के परिवार मौसम की मार का शिकार हो चुके हैं और नेता किसानों की दुहाई देकर बैठकें भी कर रहे हैं. हालांकि, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य ठाकरे पीड़ित किसानों के बीच जाकर उनसे मुलाकात भी कर चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×