scorecardresearch
 

अगले हफ्ते हो सकता है उद्धव कैबिनेट का विस्तार, 14 मंत्री ले सकते हैं शपथ

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार शनिवार को फ्लोर टेस्ट जीत गई. इसके बाद अब नजरें कैबिनेट विस्तार पर टिकी हैं. बताया जा रहा है कि दिसंबर के पहले हफ्ते में कैबिनेट विस्तार हो सकता है और 14 अन्य मंत्री शपथ ले सकते हैं. इससे पहले विधानभवन में हुए फ्लोर टेस्ट में उद्धव ठाकरे सरकार को 169 सदस्यों का समर्थन मिला जबकि बहुमत साबित करने के लिए जादुई आंकड़ा 145 है.

X
फ्लोर टेस्ट में पास उद्धव ठाकरे करेंगे कैबिनेट विस्तार (फोटो-PTI) फ्लोर टेस्ट में पास उद्धव ठाकरे करेंगे कैबिनेट विस्तार (फोटो-PTI)

  • उद्धव ठाकरे सरकार शनिवार को फ्लोर टेस्ट जीत गई
  • महाराष्ट्र में सबकी नजरें कैबिनेट विस्तार पर टिकी हैं

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार शनिवार को फ्लोर टेस्ट जीत गई. इसके बाद अब नजरें कैबिनेट विस्तार पर टिकी हैं. बताया जा रहा है कि दिसंबर के पहले हफ्ते में कैबिनेट विस्तार हो सकता है और 14 अन्य मंत्री शपथ ले सकते हैं. इससे पहले विधानभवन में हुए फ्लोर टेस्ट में उद्धव ठाकरे सरकार को 169 सदस्यों का समर्थन मिला जबकि बहुमत साबित करने के लिए जादुई आंकड़ा 145 है.

उद्धव ठाकरे नीत ‘महाराष्ट्र विकास आघाडी’गठबंधन सरकार ने राज्य विधानसभा में शनिवार को विश्वासमत हासिल कर लिया. विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष (प्रोटेम स्पीकर) दिलीप वाल्से पाटिल ने सदन को बताया कि कुल 169 विधायकों ने विश्वासमत के समर्थन में वोट किया. उन्होंने बताया कि चार विधायकों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया.

प्रस्ताव के खिलाफ किसी ने वोट नहीं किया क्योंकि 288 सदस्यीय विधानसभा में विधायकों की गिनती शुरू होने से पहले ही बीजेपी के सभी 105 विधायक वाकआउट कर गए. इस गठबंधन में शिवसेना,राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) और कांग्रेस शामिल हैं.

गौरतलब है कि 21 अक्टूबर को हुए महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी 105 सीटों पर जीत के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी. वहीं, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटों पर जीत मिली थी.

बता दें कि महा विकास अघाड़ी को 169 विधायकों का समर्थन मिला. उद्धव सरकार के पक्ष में शिवसेना के 56, एनसीपी के 54, कांग्रेस के 44, सपा के 2, स्वाभिमानी शेतकारी  के एक, बहुजन विकास अघाड़ी के 3, पीडब्लूपी के एक और निर्दलीय 10 विधायक रहे. इसमें एनसीपी के एक विधायक को प्रोटेम स्पीकर बना दिया गया था, इस वजह से 169 विधायकों ने वोट डाला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें