scorecardresearch
 

कश्मीर में अब क्या हैं हालात? पुलिस ने बताया- 6 दिन में नहीं चली एक भी गोली

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक बयान जारी कर राज्य में पुलिस की ओर से फायरिंग की खबरों को बेबुनियाद और अफवाह करार दिया है. पुलिस ने कहा है कि पिछले 6 दिनों में पुलिस की ओर से एक भी गोली नही चलाई गई है. पुलिस ने कहा है कि लोगों को फायरिंग से जुड़ी खबरों पर किसी तरह से यकीन नहीं करना चाहिए, क्योंकि ऐसी खबरें शरारतपूर्ण तत्वों और किसी खास उद्देश्य से फैलाई जा रही है.

पिछले 6 दिनों से नहीं हुई फायरिंग पिछले 6 दिनों से नहीं हुई फायरिंग

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक बयान जारी कर राज्य में पुलिस की ओर से फायरिंग की खबरों को बेबुनियाद और अफवाह करार दिया है. पुलिस ने कहा है कि पिछले 6 दिनों में पुलिस की ओर से एक भी गोली नही चलाई गई है. पुलिस ने कहा है कि लोगों को फायरिंग से जुड़ी खबरों पर किसी तरह से यकीन नहीं करना चाहिए, क्योंकि ऐसी खबरें शरारतपूर्ण तत्वों और किसी खास उद्देश्य से फैलाई जा रही है.

वहीं कुछ अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी ने दावा किया था कि जम्मू और कश्मीर में प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद श्रीनगर में 10 हजार लोग सड़कों पर उतर आए थे. इस सभी मीडिया रिपोर्ट्स का गृह मंत्रालय ने खंडन किया था. मंत्रालय ने इसे पूरी तरह गलत और मनगढ़ंत बताया था. अब जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी साफ कर दिया है कि राज्य में हालात पर काबू पाने के लिए पिछले 6 दिनों में गोली का इस्तेमाल नहीं किया गया है. जम्मू और कश्मीर में ईद को ध्यान में रखते हुए प्रतिबंधों में ढील दी गई जिसके बाद लोगों ने खरीदारी भी की.

जम्मू और कश्मीर में फहराएंगे तिरंगा-

जम्मू और कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के केंद्र सरकार के फैसले को भारतीय जनता पार्टी पूरे जोर-शोर से मनाना चाहती है. इसी के चलते बीजेपी की प्रदेश इकाई ने हर पंचायत में तिरंगा फहराने के लिए सिल्क और खादी के 50 हजार खास झंडे दिल्ली से मंगवाए हैं और इसे कार्यकर्ताओं और पंचायतों को दिए जाएंगे. नए बने केंद्र शासित प्रदेश में 15 अगस्त के मौके पर चार हजार से ज्यादा पंचायतों में ये झंडे फहराए जाएंगे. इसके साथ ही सभी गांवों में रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.

स्वतंत्रता दिवस पर इतने बड़े पैमाने पर तिरंगा फहराने की योजना के मद्देनजर केंद्र सरकार ने जबरदस्त सुरक्षा के इंतजाम किए हैं, जिसकी निगरानी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और उनकी टीम कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें