scorecardresearch
 

गृह मंत्रालय को खुफिया रिपोर्ट, कश्मीर में ISIS के लिए लोगों का ब्रेन वॉश कर रही हैं महिलाएं

खुफिया रिपोर्ट में बताया गया है कि दौलत-उल इस्लाम नाम से कश्मीर घाटी में महिलाओं का यह ग्रुप सक्रिय है. ग्रुप की सदस्य महिलाएं घाटी के अलग-अलग इलाकों में आईएसआईएस की विचारधारा का प्रचार करती हैं.

खुफिया रिपोर्ट में हुआ खुलासा खुफिया रिपोर्ट में हुआ खुलासा

जम्मू-कश्मीर में अशांति और राष्ट्रपति शासन लागू होने के बीच एक हैरान करने वाली सूचना सामने आई है. खुफिया एजेंसियों को घाटी में एक ऐसे महिला ग्रुप का पता लगा है, जो आतंकी संगठन आईएसआईएस की विचारधारा का प्रचार कर रहा है.

खुफिया एजेंसी ने गृह मंत्रालय को इस बारे में आगाह किया है. खुफिया रिपोर्ट में बताया गया है कि दौलत-उल इस्लाम नाम से कश्मीर घाटी में महिलाओं का यह ग्रुप सक्रिय है. खुलासा हुआ है कि ग्रुप की सदस्य महिलाएं घाटी के अलग-अलग इलाकों में आईएसआईएस की विचारधारा का प्रचार करती हैं.

एजेंसियों को जानकारी मिली है कि घाटी में इस तरह का यह पहला ग्रुप है, जो सक्रिय है. हालांकि, इस ग्रुप का खुलासा इसी साल  अनंतनाग में ईसा फाजली नाम के आतंकी की मौत के बाद हुआ था. आरोप है कि फाजली की मौत के बाद इस ग्रुप की महिलाएं उसके घर गई थीं और वहां उन्होंने भड़काऊ बयान दिए थे.

बता दें कि श्रीनगर में पत्थरबाजी के दौरान भी अक्सर पाकिस्तान के साथ आईएसआईएस के झंडे दिखाई देते रहे हैं. हालांकि, भारत सरकार देश में आईएसआईएस की मौजूदगी से इनकार करती रही है. लेकिन कश्मीर में बिगड़ते हालातों के बीच अब आधिकारिक तौर पर आईएसआईएस की विचारधारा का समर्थन करने वाले ग्रुप की जानकारी सामने आई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें