scorecardresearch
 

चंडीगढ़ छेड़छाड़: अपनों से ही घिरी BJP, सांसद ने मांगा बराला का इस्तीफा, कोर्ट जाएंगे स्वामी

उन्होंने कहा कि विपक्ष के मुंह खोलने से पहले ही सुभाष बराला को इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व इस पर क्या फैसला करेगा ये मुझे नहीं पता लेकिन यह मेरी राय है कि उन्होंने बिना किसी देरी के इस्तीफा दे देना चाहिए.

X
बीजेपी सांसद ने मांगा बराला का इस्तीफा बीजेपी सांसद ने मांगा बराला का इस्तीफा

चंडीगढ़ छेड़खानी मामले में अब बीजेपी के अंदर से ही हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला के खिलाफ आवाज उठी है. कुरुक्षेत्र से बीजेपी सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि किसी का पीछा करना, हाथ मारकर गाड़ी रोकना या अपहरण की कोशिश करना एक गंभीर मामला है, इसको लेकर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि लड़की ने इस मामले में हिम्मत दिखाई है वरना 90 फीसदी लड़कियां मामले को लेकर सामने नहीं आती हैं.

उन्होंने कहा कि विपक्ष के मुंह खोलने से पहले ही सुभाष बराला को इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व इस पर क्या फैसला करेगा ये मुझे नहीं पता लेकिन यह मेरी राय है कि उन्होंने बिना किसी देरी के इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने कहा कि जैसे संस्कार परिवार से मिले होंगे, वो वैसा ही कर्म कर रहा है. बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ पर ये एक प्रकार का धब्बा है.

बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने भी इस मामले पर ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि चंडीगढ़ में आईएएस ऑफिसर की बेटी के साथ छेड़छाड़ के मामले में वह PIL दायर करेंगे. उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ पुलिस की रीढ़ की हड्डी नहीं है, उसकी सर्जरी की आवश्यकता है, इसलिए मैं PIL फाइल करने जा रहा हूं.

 

कांग्रेस ने भी किया वार

चंडीगढ़ छेड़खानी मामले में अब कांग्रेस ने भी बीजेपी पर वार किया है. सोमवार को कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार एक ऐसे व्यक्ति को बचा रही है जिसने लड़की को किडनैप करने की कोशिश की है. उन्होंने कहा कि पहले डीएसपी ने पहले कुछ और बयान दिया था, लेकिन बाद में उन्होंने बयान को ही बदल दिया. सुरजेवाला बोले कि पुलिस केंद्र की अधीन आती है, केंद्र सरकार इस मामले पर परदा डालने की कोशिश कर रही है.

सुरजेवाला ने कहा कि मजिस्ट्रेट को बयान दिया गया है कि शराब में धुत लोगों ने लड़की पीछा किया जिसमें बीजेपी नेता के बेटे भी शामिल हैं. इसके बाद सीसीटीवी फुटेज ही गायब हो गई है, क्या बीजेपी की सरकार इस तरह मामले की जांच करना चाहती है. उन्होंने पीएम और गृहमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ समय पहले जब कांग्रेस नेता पर इस तरह के आरोप लगे थे, तो दोनों ने कहा था कि पिता की भी जिम्मेदारी बनती है. सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को इस मामले पर देश की जनता को जवाब देना चाहिए.

बता दें कि हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर एक लड़की से छेड़छाड़ और अपहरण करने के प्रयास के आरोप लगे हैं. घटना के वक्त विकास बराला के साथ उसका दोस्त आशीष कुमार भी मौजूद था. पुलिस के मुताबिक दोनों युवक घटना के वक्त नशे में थे. ये घटना उस वक्त हुई जब पीड़ित युवती देर रात करीब 12.35 बजे सेक्टर 9 से पंचकुला की तरफ जा रही थी.

आरोप है कि टाटा सफारी में मौजूद दो युवकों ने सेक्टर 26 के मार्केट एरिया से पीछा करना शुरू किया. लड़की ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने कई उसकी कार को रोकने की कोशिश की और दूसरे किसी रास्ते पर जाने को मजबूर किया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें