scorecardresearch
 

गुजरातः CM रूपाणी ने मंत्रियों में बांटे विभाग, पाटीदार नेताओं को खास तवज्जो

दूसरी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बनने वाले रूपाणी ने गृह और शहरी विकास विभाग अपने पास ही रखे हैं, जबकि उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल को सड़क एवं भवन, हेल्थ एवं फैमिली, नर्मदा, कल्पसार, चिकित्सा और शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी सौंपी है.

फाइल फोटो फाइल फोटो

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने अपने मंत्रियों में विभागों का बंटवारा कर दिया है. नई मंत्रिपरिषद में पाटीदार समुदाय के नेताओं को खास तवज्जों दी गई है. रूपाणी सरकार ने मंत्रालय बंटवारे में पाटीदार समेत सभी समुदाय को खुश करने की कोशिश की है. यही वजह है कि इस बार पाटीदार समुदाय के नेताओं को कई अहम मंत्रालय सौंपे गए हैं.

दूसरी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बनने वाले रूपाणी ने गृह और शहरी विकास विभाग अपने पास ही रखे हैं, जबकि उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल को सड़क एवं भवन, हेल्थ एवं फैमिली, नर्मदा, कल्पसार, चिकित्सा और शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी सौंपी है. कैबिनेट मंत्री आरसी फालदू को कृषि और पशुधन विभाग सौंपे गए हैं. वह पाटीदार समुदाय से आते हैं और गुजरात बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं. कैबिनेट मंत्री कौशिक पटेल को महत्वपूर्ण रेवेन्यू विभाग, कैबिनेट मंत्री सौरभ पटेल को वित्त एवं ऊर्जा विभाग और कैबिनेट मंत्री गणपत वसावा को जनजातीय मामले, पर्यटन, फॉरेस्ट, महिला एवं बाल विकास विभाग दिए गए हैं. वसावा आदिवासी समुदाय से आते हैं और मंगरोल विधानसभा सीट से विधायक हैं, जबकि कौशिक पटेल नारानपुर और सौरभ पटेल बोटाद विधानसभा सीट से विधायक हैं. इससे पहले भी सौरभ पटेल मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.

भूपेन्द्र सिंह चुड़ास्मा को लॉ एंड ऑर्डर, हायर एंड टेक्निकल एजूकेशन डिपार्टमेंट की जिम्मेदारी सौंपी गई है. अहमदाबाद के धोलका से विधायक चुड़ास्मा क्षत्रिय समुदाय से आते हैं. रूपाणी सरकार में कैबिनेट मंत्री की शपथ लेने वाले दिलीप ठाकोर को श्रम एवं रोजगार, यात्राधाम विकास और आपदा प्रबंधन विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है. वो चाणस्मा सीट से विधायक हैं. ओबीसी समुदाय से आते हैं और अपने समाज में मजबूत पकड़ रखते हैं.

कैबिनेट मंत्री जयेश रादड़िया को सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले के साथ ही कुटीर उद्योग की जिम्मेदारी मिली है. वो सौराष्ट्र के जेतपुर विधानसभा सीट से विधायक हैं और पाटीदार समुदाय से आते हैं. इससे पहले भी रूपाणी सरकार में मंत्री थे. कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले ईश्वर परमार को सामाजिक न्याय एवं पिछड़ा वर्ग विकास विभागों की जिम्मेदारी दी गई है. वो दलित समुदाय से आते हैं और सूरत के बारडोली विधानसभा सीट से विधायक हैं.

मंगलवार को नई मंत्रिपरिषद ने ली थी शपथ

इससे पहले मंगलवार को विजय रूपाणी ने गांधीनगर में दूसरी बार मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी. इस समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह, नीतीश कुमार समेत 18 एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने हिस्सा लिया था. रूपाणी की नई कैबिनेट में कई पुराने और नए चेहरों सहित 19 लोग शामिल हुए. मालूम हो कि गुजरात में बीजेपी की यह लगातार छठी बार सरकार बनी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें