scorecardresearch
 

दिल्ली में बाढ़ का खतरा टला, केजरीवाल ने किया राहत शिविरों का दौरा

दिल्ली में यमुना का जलस्तर घटने के बाद आसपास के इलाकों में बाढ़ का खतरा टल गया है. लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को उत्तरी पूर्वी दिल्ली के प्रभावित इलाके उस्मानपुर में रहने वाले लोगों से मुलाकात की और उन्होंने राहत शिविरों का जायजा भी लिया. यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद पुस्ता क्षेत्र में कई घर बाढ़ की चपेट में आ गए थे.

बाढ़ प्रभावित इलाकों में लगे कैम्प का केजरीवाल ने किया दौरा (फोटो-पंकज जैन) बाढ़ प्रभावित इलाकों में लगे कैम्प का केजरीवाल ने किया दौरा (फोटो-पंकज जैन)

दिल्ली में यमुना का जलस्तर घटने के बाद आसपास के इलाकों में बाढ़ का खतरा टल गया है. लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को उत्तरी पूर्वी दिल्ली के प्रभावित इलाके उस्मानपुर में रहने वाले लोगों से मुलाकात की और उन्होंने राहत शिविरों का जायजा भी लिया. यमुना नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद पुस्ता क्षेत्र में कई घर बाढ़ की चपेट में आ गए थे.

केजरीवाल प्रभावित परिवारों से भी मिले. परिवार ने केजरीवाल को बताया कि उनके घर का सामान बाढ़ में डूब गया था. उनके कई पशु अभी वहां फंसे हुए हैं. केजरीवाल ने लोगों को आश्वासन दिया कि अगर उन्हें कोई कमी महसूस होगी तो सरकार उनके लिए राहत सामग्री भी उपलब्ध कराएगी.

अरविंद केजरीवाल ने 'आजतक' से बातचीत में कहा था कि पानी 206.6 मीटर पर है. ऐसी उम्मीद है कि रात तक पानी नीचे जाएगा, उसके बाद लोग नीचे जा सकते हैं. सरकार ने टेंट, खाने-पीने का इंतजाम किया है. वहीं कैम्प में बिजली न होने के सवाल पर केजरीवाल ने जवाब देते हुए कहा था कि रात के लिए बिजली का इंतजाम कर रहे हैं. केजरीवाल ने मीडिया के सामने डीएम को बिजली की व्यवस्था करने के आदेश दिए.

हरियाणा सरकार से बातचीत के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि मनोहर लाल खट्टर सरकार से बात हुई है, वहां से छोड़ा जाने वाला पानी बेहद कम हो गया है. केजरीवाल ने दावा किया कि कैम्प में मेडिकल और डॉक्टर की टीम भी तैनात की गई है. अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि अभी सबकुछ सही है. जरूरत पड़ने पर बोट (नाव) भी बढ़ाएंगे लेकिन हरियाणा से रिपोर्ट आ रही है कि पानी कम होगा.

बता दें यमुना में जलस्तर बढ़ने की आशंकाओं के बीच प्रशासन ने यमुना से सटे इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए चेतावनी जारी थी.  साथ ही इलाके के लोगों को सुरक्षित जगह जाने को कहा गया था. दिल्ली सरकार ने ऐसे लोगों के रहने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें