scorecardresearch
 

चुनाव से पहले दिल्ली BJP में मची कलह, शाजिया इल्मी ने लगाया पक्षपात का आरोप

आम आदमी पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थामने वाली शाजिया इल्मी ने दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं पर भेदभाव और पक्षपात करने का आरोप लगाया है. शाजिया इल्मी दिल्ली बीजेपी की प्रदेश उपाध्यक्ष भी हैं.

X
दिल्ली बीजेपी की उपाध्यक्ष शाजिया इल्मी दिल्ली बीजेपी की उपाध्यक्ष शाजिया इल्मी

  • दिल्ली बीजेपी की उपाध्यक्ष हैं शाजिया इल्मी
  • पीएम के मंच पर जाने का नहीं मिला था पास
  • दिल्ली में जल्द होने वाले हैं विधानसभा चुनाव

दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में एक बार फिर से भीतर कलह खुलकर सामने आ गई है. आम आदमी पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थामने वाली शाजिया इल्मी ने दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं पर भेदभाव और पक्षपात करने का आरोप लगाया है. शाजिया इल्मी दिल्ली बीजेपी की प्रदेश उपाध्यक्ष भी हैं.

दिल्ली बीजेपी में कलह को लेकर जब शाजिया इल्मी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘मेरी नाराजगी दिल्ली बीजेपी के नेताओं से थी, लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने इसको संज्ञान में लिया है. बीजेपी आलाकमान इसको देखेगी, लेकिन अब सब कुछ ठीक है. अब मैं भी संतुष्ट हूं.’ यह पहली बार नहीं है, जब दिल्ली बीजेपी में कलह खुलकर सामने आई है, इससे पहले भी दिल्ली बीजेपी में कलह देखने को मिल चुकी है.

दिल्ली बीजेपी की उपाध्यक्ष शाजिया इल्मी कुछ समय से पार्टी पदाधिकारी के रवैये से नाराज चल रही थीं, लेकिन उनका गुस्सा तब फूट पड़ा, जब दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच पर जाने के लिए उनका पास नहीं बनवाया गया.

शाजिया इल्मी दिल्ली बीजेपी की उपाध्यक्ष के साथ ही पार्टी की प्रवक्ता और नेशनल मीडिया पैनलिस्ट हैं. इसके बावजूद शाजिया इल्मी को छोड़कर दिल्ली बीजेपी के दूसरे उपाध्यक्षों और अन्य पदाधिकारी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच पर जाने का पास बनवाया गया था, लेकिन शाजिया इल्मी का पास नहीं बनवाया गया था. इसके चलते उनको मीडिया इनक्लोजर में बैठना पड़ा था.

दिल्ली के रामलीला मैदान में पीएम मोदी की रैली के दौरान तो शाजिया इल्मी ने कुछ नहीं कहा था, लेकिन दिल्ली बीजेपी के पदाधिकारियों के ऑफिशियल व्हाट्सऐप ग्रुप में खुलकर अपनी नाराज़गी जताई थी.

सूत्रों के मुताबिक शाजिया इल्मी ने इस पर दुख जताते हुए ग्रुप में लिखा था. हर बार की तरह इस बार भी उनका एसपीजी क्लीयरेंस वाला पास नहीं बनवाया गया और अपमानित किया गया, जबकि दिल्ली बीजेपी के दूसरे उपाध्यक्षों और अन्य पदाधिकारियों का एसपीजी क्लीयरेंस पास बनवाया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें