scorecardresearch
 

केजरीवाल 3.0: शपथ के बाद आज होगी नई सरकार की पहली कैबिनेट बैठक

दिल्ली के तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल, दिल्ली सचिवालय में अपना कार्यभार संभालेंगे. वहीं, दोपहर में नई सरकार की पहली कैबिनेट बैठक होगी.

अरविंद केजरीवाल (Photo- PTI) अरविंद केजरीवाल (Photo- PTI)

  • केजरीवाल आज संभालेंगे CM का कार्यभार
  • नई सरकार की पहली कैबिनेट बैठक आज

अरविंद केजरीवाल ने लगातार तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की कमान संभाल ली है. रविवार को रामलीला मैदान में अरविंद केजरीवाल ने मंत्रियों के साथ शपथ ग्रहण की. शपथ के बाद दिए अपने भाषण में केजरीवाल ने दिल्लीवालों का आभार जताते हुए सरकार की ओर से किए गए विकास कार्यों का ब्यौरा दिया, साथ ही आगे का रोडमैप भी जनता के सामने रख दिया है. शपथ ग्रहण के बाद अब सोमवार को केजरीवाल सरकार की पहली कैबिनेट बैठक होनी है.

सीएम अरविंद केजरीवाल आज सचिवालय में कार्यभार संभालेंगे. वहीं दोपहर में नई सरकार की पहली कैबिनेट बैठक भी होगी. सीएम केजरीवाल और उनके मंत्रिमंडल का सोमवार को दिल्ली सचिवालय में पहुंचने का कार्यक्रम तय है.

सीएम अरविंद केजरीवाल: सुबह 11 बजे

मनीष सिसोदिया: सुबह 10:30 से 10:45 के बीच

सतेंद्र जैन: सुबह 10 बजे

गोपाल राय: सुबह 11:30 बजे

कैलाश गहलोत: दोपहर 12:30 बजे

इमरान हुसैन: सुबह 9:30 बजे

राजेंद्र पाल गौतम: सुबह 9 बजे

ये भी पढ़ें- शपथ लेने के बाद केजरीवाल ने सुनाई कविता, बताया क्या है नई राजनीति

सीएम केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से जिन वादों और काम के नाम पर वोट लिए हैं अब उन्हें पूरा करने का वक्त है. दिल्ली में सस्ती बिजली-पानी और अच्छी शिक्षा को AAP ने चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा बनाया था, अब इन्हीं मुद्दों पर आगे चलकर यह सरकार काम करने वाली है. केजरीवाल ने सोमवार को चुनाव में बुरा-भला कहने वालों को माफ किया, साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार के साथ मिलकर जनता के लिए काम करने का संकल्प भी लिया है.

ये भी पढ़ें- केजरीवाल के शपथ में पहुंचे इकलौते BJP नेता को न सीट मिली न पार्किंग!

'सबके लिए करूंगा काम'

शपथ ग्रहण के बाद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के कुछ लोगों ने बीजेपी, कांग्रेस और अन्य दलों को वोट दिया, लेकिन आज से मैं सबका मुख्यमंत्री हूं. मैं AAP, बीजेपी, कांग्रेस और दूसरी पार्टियों का भी मुख्यमंत्री हूं. मैंने कभी किसी का यह कहकर काम नहीं रोका कि तुम बीजेपी से हो या कांग्रेस के हो, तो मैं तुम्हारा काम नहीं करूंगा.

उन्होंने कहा कि हम केंद्र के साथ मिलकर काम करेंगे. आप किसी भी पार्टी या धर्म के हों, काम हो तो मेरे पास आ जाना. देश में दिल्ली से नई राजनीति की शुरुआत हुई है. दिल्ली मॉडल अब देश में दिख रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें