scorecardresearch
 

किसलिए जाह्नवी कपूर की फिल्म को है डिफेंस मिनिस्ट्री के परमिशन की जरूरत?

इन दिनों जाह्नवी कपूर अपनी आने वाली फिल्म कारगिल गर्ल की शूटिंग में व्यस्त हैं. मगर फिल्म के टाइटल को अब तक रक्षा मंत्रालय की अनुमति नहीं मिली है. दसअसल, भारतीय वायुसेना अफसर गुंजन सक्सेना के जीवन पर बन रही बायोपिक का टाइटल कारगिल गर्ल रखा गया है. मगर...

वायुसेना अफसर गुंजन सक्सेना की बायोपिक में जाह्नवी कपूर गुंजन की भूमिका निभा रही हैं. वायुसेना अफसर गुंजन सक्सेना की बायोपिक में जाह्नवी कपूर गुंजन की भूमिका निभा रही हैं.

इन दिनों जाह्नवी कपूर अपनी आने वाली फिल्म कारगिल गर्ल की शूटिंग में व्यस्त हैं. मगर फिल्म के टाइटल को अब तक रक्षा मंत्रालय की अनुमति नहीं मिली है. दसअसल, भारतीय वायुसेना अफसर गुंजन सक्सेना के जीवन पर बन रही बायोपिक का टाइटल "कारगिल गर्ल" रखा गया है. मगर जब तक इस पर डिफेंस मिनिस्ट्री की मुहर नहीं लग जाती, तब तक इसे आधिकारिक तौर पर अनाउंस नहीं किया जा सकता है. 

फिल्म "कारगिल गर्ल" वायुसेना अफसर गुंजन सक्सेना की असल कहानी बताई जा रही है. सन 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान गुंजन सक्सेना ने युद्ध क्षेत्र के अंदर घुसकर अपना योगदान दिया था. गुंजन से पहले कभी किसी महिला पायलट को यह उपलब्ध‍ि हासिल नहीं थी. इस जांबाज महिला अफसर की जिंदगी पर बन रहीं बायोपिक की आधी शूटिंग लखनऊ में हो चुकी है.

जबकि फिल्म के पारिवारिक सीन 28 अप्रैल के बाद शूट किए जाएंगे. फिल्म में जाह्नवी कपूर के अलावा अंगद बेदी और पंकज त्रिपाठी भी महत्वपूर्ण भूमिका में है. मुंबई मिरर से बातचीत के दौरान सूत्र ने बताया कि लखनऊ एयरफोर्स स्टेशन के नजदीक भी फिल्म की शूटिंग की जाएगी.

View this post on Instagram

A post shared by Janhvi Kapoor (@janhvikapoor) on

कारगिल गर्ल में अभिनेता पंकज त्रिपाठी, जाह्नवी कपूर के पिता की भूमिका में नजर आएंगे. वहीं अंगद बेदी, जाह्नवी कपूर के भाई होंगे. IANS से बातचीत के दौरान एक्टर पंकज त्रिपाठी ने बताया था कि इस फिल्म में काम कर उन्हें अच्छा महसूस हो रहा है. जाह्नवी के बारे में एक्टर ने कहा था, वह एक ईमानदार अभिनेत्री होने के साथ-साथ काम को लेकर प्रतिबद्ध हैं.

बता दें कि कुछ दिनों पहले सिद्धार्थ मल्होत्रा स्टारर फिल्म विक्रम बत्रा की बायोपिक को भी रक्षा मंत्रालय की अनुमति लेनी पड़ी थी. हालांकि फिल्म के टाइटल और स्क्र‍िप्ट दोनों पर मंत्रालय ने सहमति दे दी है. इस बायोपिक को 'कारगिल के शेरशाह' का टाइटल दिया गया है. फिल्म के को-प्रोड्यूसर शब्बीर बॉक्सवाला ने बताया कि किसी भी रक्षाकर्मी के ऊपर फिल्म बनाने से पहले रक्षा मंत्रालय की अनुमति लेना जरूरी होती है. विक्रम बत्रा के बायोपिक की शूटिंग अब मई से चंडीगढ़ में शुरू होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें