scorecardresearch
 

बिग बॉस में अंडों को मिली हाईसिक्योरिटी, देखें कंटेस्टेंट्स का नया ड्रामा

कंटेस्टेंट्स अंडों को छिपाते और उनकी कड़ी निगरानी करते नजर आ रहे हैं. शो के नए प्रोमो में असीम रियाज और हिमांशी खुराना अंडों को बेड में छिपाते नजर आ रहे हैं.

घर के भीतर की एक तस्वीर घर के भीतर की एक तस्वीर

छोटे पर्दे के सबसे चर्चित रियलिटी टीवी शो बिग बॉस में अब एक नए किस्म का तमाशा देखने को मिल रहा है. कंटेस्टेंट्स अंडों को छिपाते और उनकी कड़ी निगरानी करते नजर आ रहे हैं. शो के नए प्रोमो में असीम रियाज और हिमांशी खुराना अंडों को बेड में छिपाते नजर आ रहे हैं. अब सवाल ये उठता है कि घर के सदस्य आखिर ऐसा कर क्यों रहे हैं? चलिए आपको बताते हैं.

दरअसल घर के भीतर राशन चुराए जाने की घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ती चली जा रही हैं. इससे पहले घर में चाय और कॉफी को लेकर मुद्दा बनाया जा चुका है और अब अंडों को लेकर राजनीति होती नजर आ रही है. पारस छाबड़ा और उनकी टीम ये कहती नजर आती है कि अब ये लोग अंडे भी छुपाकर रखेंगे. उधर देवोलीना ये कहती हुई दिखाई देती हैं कि ये लोग अपना-अपना दिमाग नहीं लगाते बल्कि किसी एक के ही दिमाग से चलते है.

View this post on Instagram

Chai ke baad kya ab ande banenge kitchen wars ka mudda? Watch #BiggBoss13 tonight at 10:30 PM. Anytime on @voot. @vivo_india @beingsalmankhan #BiggBoss #BB13 #SalmanKhan

A post shared by Colors TV (@colorstv) on

बता दें कि घर में आए दिन बड़ी लड़ाइयां होती रहती हैं और बीच-बीच में कुछ घटनाएं ऐसी भी होती हैं जब बहुत छोटी-छोटी बातों को लेकर मुद्दा बना दिया जाता है. हाल ही में पारस छाबड़ा, सिद्धार्थ शुक्ला और असीम रिजाय की लड़ाई इस बात पर होती नजर आई कि किसने कितने अंडे खाए थे. जाहिर है कि घर में राशन बहुत ही लिमिटेड होता है और सभी का ख्याल रखा जाना जरूरी है.

क्यों खोते हैं कंटेस्टेंट संतुलन-

कम खाने, कम नींद और लगातार बने रहने वाले तनाव के चलते कंटेस्टेंट्स के लिए मामूली चीजों पर रिएक्ट करना कई बार काफी आम हो जाता है. फिलहाल असीम, शहनाज, सिद्धार्थ और हिंदुस्तानी भाऊ घर के भीतर काफी दमदार परफॉर्मेंस दे रहे हैं और इनके खेल में आगे जाने की काफी प्रबल संभावनाएं हैं. देखना होगा कि क्या ये फिनाले रांउड तक का सफर तय कर पाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें