scorecardresearch
 

23 वर्षीय भारतीय मूल की डॉक्टर भाषा मुखर्जी के सिर सजा मिस इंग्लैंड का ताज

भारतीय मूल की 23 वर्षीय डॉक्टर भाषा मुखर्जी ने मिस इंग्लैंड का खिताब अपने नाम कर लिया है.

भाषा मुखर्जी भाषा मुखर्जी

भारतीय मूल की 23 वर्षीय डॉक्टर भाषा मुखर्जी ने मिस इंग्लैंड का खिताब अपने नाम कर लिया है. भाषा ने ब्यूटी पीजेंट कॉन्टेस्ट में कई बड़ी-बड़ी मॉडल्स को पछाड़ कर ये खिताब हासिल किया है.

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक भाषा मुखर्जी के पास दो मेडिकल डिग्रियां हैं. एक डिग्री मेडिकल साइंस में है और दूसरी मेडिसिन एंड सर्जरी में. भाषा का आईक्यू लेवल 146 है. रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि भाषा की 5 अलग-अलग भाषाओं में अच्छी कमांड है.

View this post on Instagram

Throwback to this charity collaboration with local elderly community and Derby Homes by #thegenerationbridgeproject @the_gbp Representing @missenglandnews and my wonderful sponsors @joggy_kang_official and @puneetbhandal #MissEngland2019 #beautywithapurpose #elderly #missenglandfinalist #misstopmodelbeauty #derbyhomes #medic #model #socialcause #charitywork #MissAsianFaceofMissengland @afofme

A post shared by Bhasha Mukherjee (@bhasha05) on

डॉक्टर से मिस इंग्लैंड बनने की जर्नी के बारे में बात करते हुए भाषा ने कहा, 'मेरे ब्यूटी कॉन्टेस्ट में हिस्सा लेने के सफर की शुरुआत उस समय हुई जब मैं अपनी पढ़ाई के बीच में थी. मुझे इसे करने के लिए खुद को बहुत तैयर करना पड़ा. लेकिन आखिर में मैंने ये करने का फैसला लिया. मैंने अपनी पढ़ाई को बैलेंस करके थोड़ा ब्रेक लिया.'

बता दें कि भाषा मुखर्जी का जन्म भारत में हुआ था. बचपन में ही वो अपने परिवार के साथ ब्रिटेन में शिफ्ट हो गई थीं. वह गुरुवार शाम को मिस इंग्लैंड फाइनल के समाप्त होने के कुछ ही घंटों बाद, बोस्टन, लिंकनशायर के एक हॉस्पिटल में जूनियर डॉक्टर के रूप में अपनी नई नौकरी शुरू करने वाली थीं. लेकिन मिस इंडिया का खिताब जीतने के बाद भाषा अब मिस वर्ल्ड में हिस्सा लेंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें