scorecardresearch
 

UGC ने बढ़ाई SC, OBC, माइनॉरिटीज स्कॉलर्स की फेलोशिप राशि, ये है नई मद

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन ने SC, OBC, माइनॉरिटीज स्कॉलर को दी जाने वाली फेलोशिप राशि बढ़ा दी है. जानें- क्या है वो बढ़ी हुई राशि और किसे मिलेगा फायदा.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) और वरिष्ठ अनुसंधान फैलोशिप (एसआरएफ) की फेलोशिप राशि में वृद्धि के महीनों बाद अब एससी, ओबीसी और अल्पसंख्यकों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति के लिए फेलोशिप राशि बढ़ा दी है. यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन ने SC, OBC, माइनॉरिटीज स्कॉलर को दी जाने वाली फेलोशिप राशि बढ़ा दी है. जानें- क्या है वो बढ़ी हुई राशि और किसे मिलेगा फायदा.

7 नवंबर को जारी एक नोटिस में, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय और अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय, भारत सरकार ने तीन फैलोशिप के लिए फेलोशिप राशि में वृद्धि को अधिसूचित किया है . ये तीन फेलोशिप नेशनल फैलोशिप फॉर एससी (एनओटीसी), ओबीसी के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप (एनएफओबीसी) ), और मौलाना आज़ाद नेशनल फैलोशिप (MANF) हैं. अब इस वर्ग के छात्रों को पहले की अपेक्षा अधिक फायदा मिलेगा.

जानें- कितनी बढ़ी फेलोशिप

ये छात्रवृत्ति राशि 25,000 रुपये प्रति माह से बढ़ाकर 31,000 रुपये प्रति माह कर दी गई है. इसमें जेआरएफ के पहले दो वर्षों के लिए 28,000 प्रति माह से कार्यकाल की शेष अवधि (एसआरएफ) के लिए 35,000 प्रति माह की गई थी. बता दें कि वहीं स्कॉलर्स को एचआरए 8%, 16% और 24% की संशोधित दर पर दिया जाएगा. ये नियम भारत सरकार के मानदंडों के अनुसार शहर या स्थान पर लागू होता है जहां रिसर्च फेलो अपने शोध कार्य कर रहे हैं.

इस संशोधित फैलोशिप की दर 1 जनवरी, 2019 से प्रभावी होगी. इससे पहले यूजीसी ने इस साल जून में विज्ञान, मानविकी और सामाजिक विज्ञान में जूनियर रिसर्च फैलोशिप (जेआरएफ) और सीनियर रिसर्च फेलोशिप (एसआरएफ) के फेलोशिप राशि को संशोधित किया था. इस संसोधन के बाद इनकी फेलोशिप भी छह से सात हजार रुपये तक जूनियर और सीनियर रिसर्च फेलो के मानक के अनुरूप बढ़ाई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें