scorecardresearch
 

आर्टिकल 370 पर अमित शाह ने पूछा सवाल तो मनीष तिवारी को याद आई 'फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे'

संसद में गृह मंत्री अमित शाह ने पूछा कि कांग्रेस बताए कि आर्टिकल 370 हटाए जाने के पक्ष में हैं या विपक्ष में? इस पर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी को याद आई किताब फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे... जानें- क्या दिया जवाब..

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी

जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर चर्चा के दौरान कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने लोकसभा में बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज जोसंसद में हो रहा है वो संवैधानिक त्रासदी है. गृह मंत्री अमित शाह ने जब उनसे पूछा कि वो बताएं कि आर्टिकल 370 हटाए जाने के पक्ष में हैं या विपक्ष में? तो तिवारी ने जवाब में फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे का उदाहरण दिया.

तिवारी ने कहा "अंग्रेजी की किताब है. जिसमें लिखा है कि हर चीज काली और सफेद नहीं होती. उनमें ग्रे के 50 शेड्स होते हैं". मनीष तिवारी ' फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे' का जिक्र कर रहे थे. इसी के साथ मनीष तिवारी ने अमित शाह को जवाब देते हुए कहा "बगैर जम्मू कश्मीर संविधान सभा की मंजूरी के धारा 370 को खारिज नहीं किया जा सकता".

बता दें, 'फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे' की लेखिका इंग्लैंड की ई.एल. जेम्स (Erika Leonard James) हैं. किताब साल 2011 में पब्लिश हुई थी. पब्लिश होने के बाद ये किताब रातोरात सुर्खियों में आ गई. किताब इतनी लोकप्रिय हुई कि दुनिया भर में 7 करोड़ से ज्यादा लोगों ने इसे खरीदा और पढ़ा. किताब के तीन भाग हैं,1. फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे, 2. फिफ्टी शेड्स ऑफ फ्रीड,  3. फिफ्टी शेड्स ऑफ डार्कर.

किस पर आधारित है किताब

किताब में सेक्स के कई रूपों के बारे में बताया गया है. जिसे लेखिका ने इस किताब की कामयाबी का राज भी बताया. लेखिका ने बताया था कि औरतों को एक अच्छी प्रेम कहानी पसंद आती है और फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे दिल से इसी तरह की प्रेम कहानी है.'

'फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे' पर बन चुकी है फिल्म

'फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे' किताब पर एक फिल्म भी बनी है.जो साल 2015 में रिलीज हुई थी. फिल्म एक सीधी-सादी लड़की एनस्तेशिया और एक बिजनेस टायकून क्रिश्चियन ग्रे पर आधारित है. क्रिश्चियन ग्रे अनाथ होता है जिसे अमीर माता- पिता पालते हैं. वहीं दोनों करीब आते हैं और दोनों में संबंध बनते हैं.

फिल्म में दर्शाया गया है कि क्रिश्चियन की दुनिया एकदम अलग होती है, जिसमें चमड़े के हंटर, रस्सियां, हथकड़ियां और सेक्स के दौरान अपने साथी को पीड़ा देने की भावनाएं कूट-कूट कर भरी होती हैं. जिससे एनस्तेशिया को भी गुजरना होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें