scorecardresearch
 

बिहार: पारिवारिक विवाद में धारदार हथियार से दो लोगों की हत्या

बिहार के कैमूर जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार देर रात एक व्यक्ति ने पारिवारिक विवाद में अपने भाई सहित दो लोगों की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी. आरोपी ने अपनी भाभी को भी गंभीर रूप से जख्मी कर दिया.

बिहार के कैमूर जिले की घटना बिहार के कैमूर जिले की घटना

बिहार के कैमूर जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार देर रात एक व्यक्ति ने पारिवारिक विवाद में अपने भाई सहित दो लोगों की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी. आरोपी ने अपनी भाभी को भी गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. इस वारदात के बाद से आरोपी फरार बताया जा रहा है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

पुलिस के अनुसार, भगवानपुर बाजार निवासी युवक छोटन पांडे का रात को अपने ही भाई रामचंद्र पांडे (45) से किसी बात को लेकर विवाद हो गया. इसी बीच छोटन ने घर में रखे गड़ांसे (एक प्रकार का धारदार हथियार) से वार कर भाई की हत्या कर दी और पति को बचाने आई भाभी पार्वती देवी को भी गड़ांसे से घायल कर दिया.

जानकारी के मुताबिक, आरोपी गड़ांसा हाथ में लेकर निकलते हुए रास्ते में 65 वर्षीय जुड़ावन साह की गर्दन पर भी वार कर दिया, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. इसके बाद आरोपी फरार हो गया. इस घटना में घायल महिला पार्वती को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है.

भगवानपुर के थाना प्रभारी रविकांत सिंह ने बुधवार को बताया कि ग्रामीणों के अनुसार, आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. दोनों भाइयों में अक्सर विवाद होता रहता था. ग्रामीण आरोपी को शराब के नशे में रहने की बात बता रहे हैं. पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है. घटना के बाद से आरोपी फरार है.

बताते चलें कि बिहार में लगातार हत्या की वारदात हो रही है. हाल ही में बक्सर में बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर बहुजन समाज पार्टी के एक नेता की हत्या कर दी थी. बदमाशों की गोलीबारी में बसपा नेता के बेटे को भी गोलियां लगी. पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था.

पुलिस के मुताबिक, बिहार के राज्य महासचिव और नदांव ग्राम पंचायत के पूर्व मुखिया BSP नेता 40 वर्षीय खूंटी यादव की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. बसपा नेता बक्सर के सरीमपुर में स्थित अपनी दवाइयों की दुकान बंद कर SUV वाहन से घर लौट रहे थे. उनके साथ उनका बेटा यशवंत भी था.

बसपा नेता की गाड़ी इटाढ़ी रेलवे क्रॉसिंग के नजदीक पहुंची ही थी कि अज्ञात बंदूकधारी बदमाशों ने उनकी गाड़ी पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. पुलिस निरीक्षक अविनाश कुमार ने बताया था कि हमले में जहां बसपा नेता खूंटी यादव की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं उनका बेटा यशवंत गंभीर रूप से जख्मी हो गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें