scorecardresearch
 

इंजीनियर हत्याकांडः परिवार का आरोप- कंपनी ने नहीं की थी गार्ड के खिलाफ कार्रवाई

पुणे के इंफोसिस दफ्तर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर रासिला राजू की हत्या मामले में पीड़ित परिवार ने कंपनी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. परिवार का कहना है कि रासिला ने आरोपी गार्ड भाबेन सैकिया के खिलाफ कंपनी में शिकायत की थी, लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई.

X
सॉफ्टवेयर इंजीनियर के. रासिला राजू सॉफ्टवेयर इंजीनियर के. रासिला राजू

पुणे के इंफोसिस दफ्तर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर रासिला राजू की हत्या मामले में पीड़ित परिवार ने कंपनी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. परिवार का कहना है कि रासिला ने आरोपी गार्ड भाबेन सैकिया के खिलाफ कंपनी में शिकायत की थी, लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई.

रासिला के मामा मनोज ने बताया कि रासिला ने फोन पर बातचीत के दौरान आरोपी गार्ड द्वारा परेशान किए जाने की बात कही थी. रासिला ने मैनेजमेंट से आरोपी गार्ड की शिकायत भी की थी लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. मनोज ने आगे कहा, वह लोग रासिला की हत्या की निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे.

गौरतलब है कि मूल रूप से केरल के कोझीकोड की रहने वाली रासिला राजू की रविवार शाम इंफोसिस कंपनी के गार्ड भाबेन सैकिया ने कंप्यूटर वायर से गला घोंटकर हत्या कर दी थी. रासिला ने एक बार फिर रविवार को भाबेन को उसे घूरने को लेकर डांटा था और मैनेजमेंट और सिक्योरिटी इंचार्ज से शिकायत करने की बात कही थी.

आरोपी गार्ड भाबेन सैकिया

शिकायत के डर से भाबेन ने रासिला को जान से मारने का प्लान बनाया. रविवार को दफ्तर में कर्मचारियों की संख्या कम होने का फायदा उठाकर भाबेन नौवीं मंजिल पर स्थित रासिला के दफ्तर में दाखिल हुआ और मौका पाकर उसने कंप्यूटर वायर से रासिला की गला घोंटकर हत्या कर दी. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी गार्ड भाबेन बड़े ही आराम से वहां से निकल गया.

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज में भाबेन को देखने के बाद उसकी तलाश शुरू कर दी थी. पुणे पुलिस ने आरोपी गार्ड भाबेन को छत्रपति शिवाजी रेलवे स्टेशन से उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वह शहर छोड़ने की फिराक में था. मूल रूप से असम के रहने वाले आरोपी गार्ड ने पुलिस पूछताछ में अपना गुनाह कबूल कर लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें