scorecardresearch
 

'आंख पर पट्टी बांध कर जवानों ने लड़की से किया गैंगरेप'

छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बल के जवानों पर आंध्र प्रदेश से लगे बीजापुर के चिन्नागेलूर और पेदागेलूर सहित कई गांवों की महिलाओं के साथ रेप करने का सनसनीखेज आरोप लगा है. इस बात की शिकायत महिला संगठनों ने पुलिस के आलाधिकारियों से की है.

गैंगरेप के बाद महिला को निर्वस्त्र फेंकने का आरोप गैंगरेप के बाद महिला को निर्वस्त्र फेंकने का आरोप

छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बल के जवानों पर आंध्र प्रदेश से लगे बीजापुर के चिन्नागेलूर और पेदागेलूर सहित कई गांवों की महिलाओं के साथ रेप करने का सनसनीखेज आरोप लगा है. इस बात की शिकायत महिला संगठनों ने पुलिस के आलाधिकारियों से की है.

महिला संगठनों ने सोमवार को 14 साल की एक किशोरी और तीन पीड़ित महिलाओं को पुलिस के सामने पेश किया. इसके बाद उनकी मेडिकल जांच कराई गई. संगठन ने आरोपियों की पहचान करवाने और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर एसपी को अर्जी दी.

स्वयंसेवी संगठन सहेली और महिला अधिकार मंच की सदस्य बेला भाटिया, रिनचिन, महीन मिर्जा, शिवानी तनेजा, श्रेया खेमानी, अनुराधा बनर्जी के साथ आम आदमी पार्टी की नेता सोनी सोढ़ी ने शनिवार को गांवों में जाकर पीड़ित किशोरी, महिलाओं और बच्चों से मुलाकात की थी.

सुनाई बातचीत की वीडियो रिकॉर्डिंग
संगठन की ये प्रतिनिधि चारों पीड़ितों को साथ लेकर जिला मुख्यालय पहुंचीं. कलेक्टर यशवंत कुमार, एसपी के.एल. ध्रुव और एएसपी आई.के. ऐलेसेला के सामने पेश किया. उन्होंने अफसरों को ग्रामीणों से बातचीत की वीडियो रिकॉर्डिंग भी दिखाई.

'आंखों पर पट्टी बांध कर किया गैंगरेप'
आरोप है कि 21 अक्टूबर को पेद्दागेलूर के जंगल में मवेशी चरा रही 14 साल की एक किशोरी से उसकी आंखों पर पट्टी बांध उसकी चाची की मौजूदगी में जवानों ने जबरन गैंगरेप किया. होश खो बैठी किशोरी को उसकी चाची किसी तरह लेकर घर आई.

'गैंगरेप के बाद महिला को निर्वस्त्र फेंका'
इसी दिन इसी गांव में एक गर्भवती के साथ गैंगरेप किया गया और निर्वस्त्र हालत में उसे नाले में फेंक दिया गया. चिन्नगेलूर और पेद्दागेलूर में ही कम से कम 15 महिलाओं को निर्वस्त्र करने, मारपीट करने और फिर से यौन हिंसा की धमकी देने के आरोप भी लगाए गए हैं.

आरोप की पुष्टि होने पर होगी कार्रवाई
बीजापुर के कलेक्टर यशवंत कुमार ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है. पीड़ित महिलाओं का मेडिकल परीक्षण किया जा रहा है. इसमें दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने को कहा गया है. आईजी एस.आर.पी. कल्लूरी ने भी न्याय का भरोसा दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें